राजनीति में उलझे जनप्रतिनिधि और निगमों के कामचोर अधिकारी कर्मचारियों के बीच जयपुर की जनता को छोड़ देना चाहिए सालभर सफाई का सपना

जयपुर

‘स्वच्छता अभियान’ के बाद अब ‘इन्वेस्ट राजस्थान समिट’ के लिए शहर को चमकाया जाएगा

जयपुर। प्रदेश की राजधानी जयपुर में सफाई के हालात पिछले कई दशकों से विकट चल रहे हैं। कोई बड़ा आयोजन हो या स्वच्छता अभियान आ जाए तो शहर में सही ढ़ंग से सफाई हो पाती है, बाकी सालभर शहर सड़ता रहता है। यह सब इसलिए है क्योंकि शहर के निगमों के जनप्रतिनिधि राजनीति में उलझे रहते हैं और निगमों के अधिकारी कामचोरी के चलते अपने कमरों से बाहर ही नहीं निकल पाते हैं। रही सही कसर कर्मचारी पूरी कर देते हैं, जिन्होंने अपने एवजी कर्मचारी लगा रखे हैं। ऐसे में जयपुर के लोगों को सालभर शहर में सफाई की आस छोड़ देनी चाहिए।

जयपुर में 7 व 8 अक्टूबर 2022 को होने वाले ‘इन्वेस्ट राजस्थान समिट’ का आयोजन होना है। प्रदेश सरकार की ओर से आयोजित होने वाले इस समिट में देश—विदेश से इन्वेस्टर हिस्सा लेंगे, ऐसे में शहर के दोनों निगमों ने समिट के दौरान शहर को चमकाने की तैयारी शुरू कर दी है। बैठक में शहर की जो समस्याएं गिनाई गई है, वह समस्याएं पिछले तीन दशकों से खत्म नहीं हो पा रही है, ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर निगम के जनप्रतिनिधि और अधिकारी—कर्मचारी करते क्या हैं? निगमों का सालाना करोड़ों का बजट आखिर किस गंदी नाली में बह जाता है।

नगर निगम ग्रेटर आयुक्त महेन्द्र सोनी ने मंगलवार को नगर निगम के अधिकारियों और उपायुक्तों की समीक्षा बैठक लेकर 7 व 8 अक्टूबर 2022 को जयपुर में होने वाले ‘इन्वेस्ट राजस्थान समिट’ के आयोजन की तैयारियों के सम्बन्ध मे आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होने कहा कि सभी अधिकारी समन्वय एवं माईक्रो प्लानिंग से कार्य करें जिससे जयपुर के सौन्दर्यकरण एवं सफाई व्यवस्था की खूबसूरत तस्वीर इन्वेस्ट राजस्थान समिट में आने वाले विजिटर्स को भी दिखाई दे सके।

सोनी ने कहा कि आयोजन के दौरान किसी भी तरीके की अव्यवस्था या गंदगी नही दिखाई देनी चाहिए। यह सम्बन्धित अधिकारी सुनिश्चित करें। उन्होने बैठक में सफाई व्यवस्था, टूटी हुई सड़कों की मरम्मत, मीडियन का रखरखाव, फुटपाथ का रखरखाव, नगर निगम द्वारा संधारित रोड लाईट का रखरखाव, सड़कों के सौन्दर्यकरण के लिये प्लांटेशन, अवैध बैनर, हॉर्डिंग्स, पोस्टर्स को हटाने इसी के साथ अवैध अतिक्रमणों को भी हटाने के निर्देश दिए।

सोनी ने कहा कि शहर में लग रहे अवैध बैनर, होर्डिंग्स, पोस्टर शहर को बदरंग कर रहे है। इन्हें सम्बन्धित अधिकारियों द्वारा अभियान चलाकर कार्यवाही कर शीघ्र ही हटवाया जाना सुनिश्चित किया जाए। आगामी मानसून को देखते हुए शीघ्र ही नालों की सफाई का कार्य किया जाए और मलबा निकालने के साथ ही उसे हटाने का कार्य भी किया जाए। शहर में घूम रहे आवारा पशुओं को भी पकड़ा जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.