Transport will be available on every route in Rajasthan, policy is being brought

राजस्थान के हर मार्ग पर मिलेगा परिवहन साधन, लाई जा रही पॉलिसी

जयपुर

जयपुर। परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि प्रदेश के सभी मार्गों पर बसों का संचालन हो, इसके लिए बड़ी पॉलिसी लाई जा रही है। मुख्यमंत्री स्तर पर पॉलिसी तय हो रही है। यह विभाग में पारदर्शिता लाने के साथ-साथ भ्रष्टाचार पर भी शिकंजा कसेगी और इससे हर मार्ग को साधन मिलेगा। मुख्यमंत्री से भी आग्रह किया गया है कि इसी वित्तीय वर्ष के बजट में पॉलिसी का प्रावधान करें।

खाचरियावास ने मंगलवार को परिवहन विभाग से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी प्रादेशिक और जिला परिवहन अधिकारियों के साथ बैठक की। राजस्व अर्जन की समीक्षा करते हुए उन्होंने आरटीओ-डीटीओ को निर्देश दिए कि बिना टैक्स चुकाए चल रहे वाहनों से टैक्स वसूली की जाए। वाहन फाइनेंस कंपनियों के यार्ड में खड़े ऐसे वाहनों की तलाश करें जिन्होंने टैक्स नहीं जमा कराया। परिवहन अधिकारी अपने क्षेत्र की बस यूनियन, ट्रक यूनियन और अन्य वाहन यूनियनों के पदाधिकारियों से संवाद करें। राज्य सरकार की रीति-नीति और जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में भी बताए।

जनकल्याणकारी योजना की कड़ी में ग्रामीण सेवा
खाचरियावास ने कहा कि जनता को राहत देने के लिए जनकल्याणकारी योजनाओं की कड़ी में ग्रामीण परिवहन सेवा बड़े स्तर पर लाई जा रही है। इसके लिए सभी विधायकों के साथ परिवहन निरीक्षकों, प्रादेशिक और जिला परिवहन अधिकारियों से मार्गों को लेकर सुझाव मांगे गए है।

वाहन संचालक को तकलीफ दिए बिना, प्राप्त करेंगे राजस्व लक्ष्य
खाचरियावास ने कहा कि इस बार कोरोना काल के दौरान वाहन संचालकों को कई रियायतें दी गई है। इसके साथ ही राजस्व लक्ष्य प्राप्त करने के भी प्रयास हो रहे है। लक्ष्य ऐसे प्राप्त करेंगे कि कोई वाहन मालिक तकलीफ में नहीं आए। गत वित्तीय वर्ष में 5 हजार 6 सौ करोड़ के लक्ष्य में से 5 हजार करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त किया गया था।

बहरोड़ मिड-वे हमारी शान है

खाचरियावास ने बताया कि बहरोड़ मिड-वे परिवहन विभाग के कारण ही फिर चला है। कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री गहलोत से हमनें आग्रह किया था कि रोडवेज बसों और यात्रियों के सिक्योरिटी पाइंट से मिड-वे चलना चाहिए। अब मिड-वे शुरू हो गया है। इससे आरटीडीसी ही नहीं, रोडवेज को भी फायदा होगा। हम चाहते है कि आरटीडीसी के सभी मिड-वे चलने चाहिए। राजस्थान टूरिस्ट डवलपमेंट कॉर्पोरेशन और राजस्थान रोडवेज एक-दूसरे के साथ मिलकर चलेंगे। इसमें रोडवेज यात्री मिड-वे पर ठहरेंगे तो उन्हें 30 प्रतिशत की छूट मिलेगी।

इलेक्ट्रिक बसें जल्द चलेंगी

परिवहन मंत्री ने बताया कि जल्द ही इलेक्टिक बस चलेंगी। इनके लिए जयपुर और दिल्ली में चार्जिंग स्टेशन लगाए गए है। मिड-वे पर भी स्टेशन बनाए जाएंगे। इलेक्ट्रिक बसों के साथ ही बीकानेर हाउस भी शुरू हो जाएगा। ये बसें भारत सरकार के सहयोग से आ रही है। इनके सफल संचालन में मुख्यमंत्री पहल कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *