दिल्लीशिक्षा

18 जून को हुई यूजीसी नेट परीक्षा रद्द , 19 जून को मंत्रालय ने माना कि इस परीक्षा में शुचिता से समझौता हुआ..

यूजीसी नेट परीक्षा-2024 को रद्द कर दिया गया है. शिक्षा मंत्रालय ने स्वीकार किया है कि 18 जून 2024 को हुई नेट की परीक्षा की पवित्रता के साथ समझौता हुआ है और इसीलिए इसे रद्द करने का फैसला किया गया है। मंत्रालय ने सोशल मीडिया साइट एक्केस पर जानकारी देते हुए बताया है कि भारतीय साइबर क्राइम कोऑर्डिनेशन सेंटर (14C) द्वारा दिए गए इनपुट के तहत ये फैसला लिया गया है। बता दें कि नीट की तरह ही UGC NET Exam का आयोजन भी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी कराती है।


नीट परीक्षा में घोटाले को लेकर पहले ही देश भर में हंगामा हो रहा है। हर तरफ परीक्षा आयोजित करने वाली एजेंसी एनटीए सवालों के घेरे में घिरती जा रही है और अब यूजीसी नेट परीक्षा को लेकर मंत्रालय ने स्वीकार किया है कि इस परीक्षा में शुचिता से समझौता किया गया है। बता दें कि यह परीक्षा 18 जून को आयोजित की गयी थी और केवल एक दिन बाद ही यानी 19 जून को यह परीक्षा रद्द कर दी गयी है। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने बुधवार, 19 जून को ट्वीट करके बताया कि ‘गृह मंत्रालय मंत्रालय के अधीन आने वाले Indian Cyber Crime Coordination Centre द्वारा मिली शुरुआती जानकारी के मद्देनजर 18 जून को हुई यूजीसी नेट 2024 की परीक्षा रद्द की जा रही है। अब ये परीक्षा फिर से आयोजित की जाएगी। यूजीसी नेट एग्जाम की नई डेट से संबंधित जानकारी अलग से ugcnet.nta.nic.in पर जारी की जाएगी।’
मंत्रालय ने कहा है कि ‘यूजीसी नेट परीक्षा में गड़बड़ी की जांच का जिम्मा CBI को सौंपा जा रहा है। सरकार परीक्षाओं की पवित्रता बरकरार रखने और छात्रों के हित की सुरक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध है। जो भी व्यक्ति या संस्था नेट परीक्षा में धांधली मामले में जिम्मेदार पाई जाएगी, उसके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।’
UGC NET Exam: पेन पेपर मोड में हुई थी परीक्षा
कैंडिडेट्स को असिस्टेंट प्रोफेसर की योग्यता, जूनियर रिसर्च फेलोशिप (JRF) और पीएचडी एडमिशन की योग्यता देने वाली ये परीक्षा पेन पेपर मोड यानी ऑफलाइन मोड में आयोजित की गई थी। देशभर में एक ही दिन दो पालियों में NTA ने नेट एग्जाम का संचालन किया था।

Related posts

किसानों के आंदोलन का तरीका आपत्तिजनकःपंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट

Clearnews

नॉन इंजीनियरिंग डिप्लोमा कोर्स अंतिम वर्ष की परीक्षा 16 से

admin

मॉक पोल में ईवीएम से भाजपा के पक्ष में अतिरिक्त वोट के आरोपों को चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट के समक्ष किया खारिज, बताई सारी प्रक्रिया..

Clearnews