जयपुर

कॉन्स्टीट्यूशन क्लब के निर्माण से संवैधानिकमूल्यों को मिलेगी मजबूती-गहलोत

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कई फैसले ऐसे होते हैं, जो इतिहास में दर्ज होते हैं। जयपुर में कॉन्स्टीट्यूशन क्लब ऑफ राजस्थान के निर्माण से प्रदेश का नाम इतिहास में दर्ज होगा। विभिन्न राजनीतिक दलों के विधायक इस क्लब में बैठकर सार्थक चर्चा करेंगे। इससे लोकतंत्र और संवैधानिक मूल्यों को मजबूती मिलेगी। विधायक आवास परियोजना भी हमारी सरकार की इच्छा शक्ति से मूर्तरूप ले रही है।

गहलोत बुधवार को कॉन्स्टीट्यूशन क्लब ऑफ राजस्थान के शिलान्यास एवं भूमि पूजन कार्यक्रम को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने विधायक आवास परियोजना एवं कॉन्स्टीट्यूशन क्लब की कल्पना को साकार रूप देने में सहयोग के लिए विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी, नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल एवं नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के साथ ही सभी विधायकों को साधुवाद दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विधायकों के आवास की समस्या काफी पुरानी थी। विधायक नगर पूर्व एवं पश्चिम तथा जालूपुरा में बने विधायक आवास काफी पुराने और जर्जर हो चुके थे। ऐसे में हमारी सरकार ने वर्षों से लंबित विधायकों की इस समस्या का समाधान करते हुए विधायक आवास परियोजना को मंजूरी दी। सभी के सहयोग से यह परियोजना साकार हो रही है। पांच माह में विधायक आवासों का 6 मंजिल का ढांचा तैयार हो चुका है। उन्होंने विधायक आवास परियोजना एवं कॉन्स्टीट्यूशन क्लब दोनों परियोजनाओं को गुणवत्ता के साथ समय पर पूरा करने के निर्देश दिए और कहा कि कॉन्स्टीट्यूशन क्लब की सुविधाओं का लाभ वर्तमान विधायकों के साथ पूर्व विधायकों को भी मिलेगा।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने कॉन्स्टीट्यूशन क्लब के विचार को मूर्त रूप देने एवं वित्तीय प्रावधान करने के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि यहां विधायक एक-दूसरे से वैचारिक चर्चाएं कर पाएंगे एवं उनके आपसी संबंध प्रगाढ़ होंगे। उन्होंने उम्मीद व्यक्त की कि आवासन मंडल इस महत्वाकांक्षी परियोजना को समय पर पूरा करेगा।

नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत का संवैधानिक संस्थाओं को मजबूत बनाने का जो ध्येय है, उसे विधायक आवास परियोजना एवं कॉन्स्टीट्यूशन क्लब जैसे कार्यों से आगे बढ़ाया जा रहा है। क्लब से विधायकों के बीच सद्भाव का माहौल बनेगा। यह कार्य समय पर एवं गुणवत्ता के साथ पूरे किए जाएंगे।

धारीवाल ने कहा कि दिसम्बर 2018 में हमारी सरकार बनी तब राजस्थान आवासन मंडल हमें करीब-करीब बंद होने के हालात में मिला। आज मानसरोवर में पार्क, प्रताप नगर में ऑल इंडिया सर्विस के अधिकारियों के लिए आवास योजना, कोचिंग हब, चौपाटी निर्माण जैसे विकास कार्यों से आवासन मण्डल के प्रति लोगों का नजरिया बदला है।

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया ने बहुप्रतीक्षित विधायक आवास परियोजना को मूर्त रूप देने एवं विधायकों को शिफ्ट करने के चुनौतीपूर्ण कार्य को अमलीजामा पहनाने के लिए विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री एवं नगरीय विकास मंत्री को साधुवाद दिया। उन्होंने कहा कि राजस्थान देश का पहला राज्य है, जिसने कॉन्स्टीट्यूशन क्लब निर्माण की पहल की है।

Related posts

Rajasthan में लोकसभा चुनाव-2024 के दौरान स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव की परंपरा को रखना है कायम: चुनाव पर्यवेक्षक

Clearnews

वैभव गहलोत प्रवर्तन निदेशालय के समक्ष 30 अक्टूबर को पेश होंगे

Clearnews

बयानबाजी (Statements) और अदूरदर्शी (short-sighted) निर्णय (decisions) कटवाएंगे डोटासरा (Dotasara) का पत्ता!

admin