जयपुर

मंत्री गोविंदराम मेघवाल को लॉरेंस गैंग की धमकी, 70 लाख की फिरौती मांगी, पुलिस ने घर की सुरक्षा बढ़ाई

जयपुर। राहत मंत्री गोविंदराम मेघवाल से 70 लाख रुपए की फिरौती मांगी गई है। धमकी देने वाले ने खुद को लॉरेंस गैंग के संगठन स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन ऑफ पंजाब यूनिवर्सिटी का मेंबर बताया और फिरौती नहीं देने पर उनके प्रधान बेटे सहित पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई है। इस धमकी की जानकारी मिलते ही राजस्थान पुलिस ने मेघवाल और उनके परिजनों की सुरक्षा बढ़ा दी है। उनके बीकानेर स्थित मकान पर भी सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई है।

जानकारी के अनुसार ये कॉल मलेशिया के आईएसडी कोड से आया है। इसकी पड़ताल में पुलिस की साइबर टीम जांच कर रही है। धमकी के साथ वॉट्सऐप पर भी मेघवाल को उनके बेटी और बेटे के फोटो भेजे गए हैं। इसमें उनके साथ सुरक्षा नहीं होने का दावा करते हुए धमकी दी है। साथ ही फिरौती की मांग की गई।

मेघवाल इस समय उदयपुर में कांग्रेस की बाड़ाबंदी में उपस्थित थे। धमकी मिलने के बाद उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को भी इसकी जानकारी दी। इसके बाद मेघवाल वहां से बीकानेर के लिए रवाना हो गए।

बीकानेर पुलिस के अनुसार मंगलवार शाम राहत मंत्री गोविंद राम मेघवाल के पास कॉल आया था। इसमें 70 लाख रुपए नहीं देने पर परिवार को मारने की धमकी दी गई। इसके बाद से पुलिस की साइबर टीम सक्रिय है।

धमकी देने वाले ने स्वयं को लॉरेंस गैंग का सदस्य बताया है। उसने मेघवाल से वॉट्सऐप पर चैट की, जिसमें परिवार के सदस्यों के फोटो भेजते हुए बताया गया है कि सुरक्षाकर्मी उनके साथ रहते हैं परिवार के साथ नहीं। इसी चैट को जांच का आधार बनाकर पुलिस की साइबर टीम काम कर रही है।

मेघवाल ने कहा कि 70 लाख की मांग की गई है। पुलिस को सूचना दी गई है। पुलिस अपना काम कर रही। मैं ओर मेरा परिवार किसी भी धमकी से नहीं डरते हैं।

Related posts

राजस्थानः मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में रजिस्ट्रेशन की तिथि 7 मई तक बढ़ाई गई

admin

वन परिवार (Forest family ) ने दी दिवंगत वन कार्मिकों को श्रद्धांज​लि (tribute)

admin

निलंबित महापौर (Suspended Mayor) सौम्या गुर्जर की याचिका खारिज (Petition dismissed), सरकार को 6 माह में न्यायिक जांच (Judicial enquiry) पूरी करने के निर्देश

admin