जयपुर

‘अब अंधेरा छंटेगा, सूरज निकलेगा और कमल खिलेगा’

आपातकाल की भावना कोंग्रेस के मन से अब भी नहीं निकली, प्रचंड बहुमत के साथ भाजपा सरकार बनेगी और मीसाबंदियो की फिर से पेंशन शुरू होगी : राजे

जयपुर। भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि ‘अब अंधेरा छंटेगा, सूरज निकलेगा और कमल खिलेगा।’ राजस्थान में फिर से प्रचंड बहुमत के साथ भाजपा की सरकार बनेगी। लोकतंत्र सेनानियों की पेंशन वापस शुरू होगी, जो सीएम अशोक गहलोत सरकार ने बंद कर दी है।

विधायकों की बाड़ाबंदी और उनपर डाले जा रहे दबाव पर राजे ने कहा कि आपातकाल की भावना कांग्रेस के मन से अब भी नहीं निकली है। आज भी उसका आचरण आपातकाल जैसा ही है। उन विधायकों के पीछे पुलिस लगा रखी है, जो सरकार के अंग है। ऐसा सलूक तो अपराधियों के साथ किया जाता है, जैसा ये सरकार अपने ही विधायकों के साथ कर रही है। यह इमरजेंसी नहीं तो और क्या है?

बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री राजे भाजपा द्वारा जामडोली में आयोजित विधायक अभ्यास वर्ग में ‘आपातकाल और लोकतंत्र बहाली में हमारी भूमिका विषय पर बोल रही थी। उन्होंने कहा कि जब वे पहली बार मुख्यमंत्री बनी तब, हमारी सरकार ने मीसा और डीआईआर के तहत जेल गए सभी लोगों की पेंशन चालू की, पर जब 2008 में अशोक गहलोत मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने इस योजना को बंद कर दिया। उसके बाद 2013 में जब वापस हमारी सरकार आई तो हमने फिर से मीसाबंदियों और डीआईआर के तहत जेल जाने वालों की न केवल पेंशन चालू की बल्कि हमने उन्हें लोकतंत्र सेनानियों का दर्जा भी दिया। बाद में जब 2018 में अशोक गहलोत मुख्य मंत्री बने तो उन्होंने फिर मीसा बंदियों की पेंशन बंद कर दी।

राजे ने कहा कि वर्ष 2023 में फिर भाजपा सरकार बनेगी और जो अशोक गहलोत ने लोकतंत्र सेनानियों का सम्मान छीना है,उसे ब्याज सहित वापस लौटाएगी। उनकी पेंशन चालू करेगी।

राजे ने कहा कि आपातकाल के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भेष बदलकर जेल जाया करते थे और जेल में हमारे नेताओं के पास महत्वपूर्ण जानकारियां पहुंचाते थे। हमारे जिन नेताओं के पीछे पुलिस लगी हुई थी, वे उन्हें स्कूटर से एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाते थे। उन्होंने अटल जी की कविता ‘अब अंधेरा छंटेगा,सूरज निकलेगा और कमल खिलेगा के साथ अपना भाषण ख़त्म किया।

Related posts

डॉ. तरुण ओझा राजस्थान नाक कान गला एसोसिएशन के निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए

Clearnews

स्वास्थ्य की सुरक्षा उपभोक्ताओं का हक है और यह उन्हें मिलना ही चाहिये: सुषमा अरोड़ा, आरसीडीएफ एमडी

Clearnews

संसद और विधानसभाएं लोकतंत्र के मंदिर, जनहित के मुद्दों पर संवेदनशील होकर विचार करें जनप्रतिनिधि-राज्यपाल मिश्र

admin