जयपुरताज़ा समाचार

नाचना के युवक की हत्या के मामले में, 4 आरोपी गिरफ्तार

जैसलमेर में थाना नाचना क्षेत्र के एक युवक की मोहनगढ़ इलाके में हत्या कर लाश को जंगल में फेंक देने के मामले में पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। बेटी के पीछे युवक के चक्कर लगाने पर गुस्साए परिजनों ने वारदात को अंजाम दिया था।

जैसलमेर एसपी भंवर सिंह नाथावत ने बताया कि 12 मई को भंवरूराम पुत्र टीकूराम निवासी नाचना ने पुलिस थाना नाचना पर एक लिखित रिपोर्ट पेश की जिसमें बताया कि उसका छोटा भाई दीनाराम 10 मई की दोपहर करीब12 बजे घर से बिना बताये निकल गया। इस पर एमपीआर दर्ज कर तलाश प्रारम्भ की गई। गुमशुदा दीनाराम की तलाश कस्बा नाचना, मोहनगढ़ व आस-पास के क्षेत्र में की गई मगर कोई सुराग नहीं मिला।
जिस पर थानाधिकारी रमेश कुमार ढ़ाका के नेतृत्व में अलग-अलग टीमों का गठन किया जाकर दीनाराम की तलाश की गई। चार-पांच दिन पहले पुलिस को दीनाराम के मोहनगढ के आस-पास होने की सूचना मिली। सूचना संकलन से पता चला दीना राम प्रायः भाखरराम की बेटी धनी के पास आता-जाता रहता था। धनी मोहनगढ़ आई हुई थी। जिस पर भाखरराम को दस्तयाब कर पूछताछ की तो उसने बताया कि उसकी बेटी धनी के पीछे दीनाराम मोहनगढ़ आया था। जिसे उन्होंने देख लिया। फिर भाखर राम, पत्नी समदा, बेटी प्रेम, बेटों कालूराम व बंशी लाल एवं बेटी धनी व झण्डाराम ने मिलकर उसकी हत्या कर शव हमीरनाडा से आगे घने जंगल में फेंक दिया।
इस सूचना पर भाखरराम को साथ लेकर थानाधिकारी नाचना मय जाब्ता द्वारा हमीरनाडा के जंगल से दीना नाथ का क्षत-विक्षत शव बरामद किया। मृतक दीनाराम की लाश का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर शव अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंपा गया। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर हत्या में शामिल बंशीलाल, भाखरराम, धनी एवं समदा को गिरफ्तार कर लिया। घटना में शामिल अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Related posts

Rajasthan: घरेलू उपभोक्ताओं के अलावा सभी श्रेणी के उपभोक्ताओं की बिलिंग 4 जून से.. घरेलू उपभोक्ताओं की बिलिंग में लगेगा 3 से 4 दिन का समय

Clearnews

सीएम गहलोत का बड़ा बयान- ‘3 तारीख को जो भी परिणाम आएं उसे हम स्वीकार करेंगे, लेकिन…’

Clearnews

19 नवंबर से आयोजित होगा विश्व सूफी संगीत समारोह ‘जहां-ए-खुसरो’

admin