RCA Meeting scaled

चौमूं के चौप गांव में बनेगा राजस्थान का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम

जयपुर खेल

जयपुर। अब राजस्थान क्रिकेट के दिन बहुरेंगे। गुलाबी नगरी में राजस्थान के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का काम जल्दी ही शुरू होने वाला है, तो जोधपुर में भी वर्ष 2022 में आईपीएल मैचों के आयोजन की संभावनाए भी प्रबल हो गई है।

रणजी खिलाड़ियों की रुकी पेंशन फिर शुरू होगी

राजस्थान क्रिकेट संघ (आरसीए) के अध्यक्ष वैभव गहलोत की अध्यक्षता में आरसीए एकेडमी में साधारण सभा की बैठक हुई। इस बैठक में गहलोत ने जानकारी दी कि दिल्ली से खेलने वाली राज्य की पहली अंतरराष्ट्रीय महिला क्रिकेटर प्रिया पूनिया अब अपने गृह राज्य राजस्थान का प्रतिनिधित्व करेंगी। उन्होंने यह भी बताया कि राज्य सरकार की अनुमति नहीं मिलने की स्थिति में राजस्थान के खिलाड़ियों का शिविर अन्य राज्य में आयोजित किया जाएगा। साथ ही स्टेट अवॉर्ड शुरू करने की घोषणा करते हुए उन्होंने बताया कि पूर्व में रोकी गई रणजी खिलाड़ियों की पेंशन अब पुन: शुरू होगी।

चौप गांव में आवंटित हुई 100 एकड़ जमीन

वैभव गहलोत ने बताया कि जयपुर से करीब 20 किलोमीटर दूर चौमूं के पास स्थित चौप गांव में 100 एकड़ जमीन का आवंटन हो गया है। राज्य सरकार की ओर से यूडीएच विभाग को पत्र लिख दिया गया है। यह जमीन आरसीए को पूर्व में प्राप्त जमीन से दोगुनी है । उल्लेखनीय है कि पूर्व में आरसीए की जमीन निरस्त कर दी गई थी। अब यह मामला यूडीएच की एम्पावर्ड कमेटी के पास जाएगा। गहलोत ने बताया कि आरसीए ने यूडीएच मंत्रालय को पीपीपी आधार पर काम शुरू करने की अनुमति मांगी है, जो सरलता से मिल जाना अपेक्षित है।

जोधपुर में होगें आईपीएल मैच

वैभव ने कहा कि जोधपुर स्टेडियम के लिए 9 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए है। दिसंबर के दूसरे सप्ताह में जोधपुर के बरकतुल्लाह स्टेडियम के नवीनीकरण का कार्य शुरू होगा। उन्होंने कहा कि आरसीए की कोशिश होगी कि वर्ष 2022 में जोधपुर में आईपीएल के एक-दो मैचों का आयोजन हों।

शिव फिर बने लोकपाल व झाला एथिक्स ऑफिसर
सेवानिवृत्त न्यायाधीश शिव कीर्ति सिंह को राजस्थान क्रिकेट संघ का लोकपाल और रामचंद्र सिंह झाला को फिर से एथिक्स ऑफिसर नियुक्त किया गया। इन दोनों की नियुक्ति एक वर्ष के लिए की गई है। पूर्व में भी ये दोनों ही इन्हीं पदों पर कार्य कर रहे थे । आरसीए के सचिव महेन्द्र शर्मा ने बताया कि विवादित जिला संघों जैसे बांसवाड़ा, धौलपुर, भरतपुर आदि जिला संघों को बैठक में भाग लेने के लिए आमंत्रित नहीं किया गया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *