Viral scaled

विधायक कागजी का स्पष्टीकरण व आरोप कि वायरल वीडियो भाजपा कार्यकर्ताओं की कारस्तानी

जयपुर वीडियो

जयपुर। किशनपोल विधानसभा क्षेत्र से विधायक अमीन कागजी का बीते दिनों पुलिस द्वारा मास्क पर कार्रवाई के दौरान वाहनों के कागजों की चैकिंग को लेकर वीडियो वायरल हुआ था। अब उन्होंने पुराने वीडियो के बारे में स्पष्टीकरण देते हुए जनता पार्टी पर आरोप लगाया है कि उसके लोगों द्वारा जारी यह वीडियो जानबूझकर कांट-छांट कर वायरल किया गया है। यह समाज में भ्रांति फैलाने की साजिश है। वायरल किया गया वीडियो मास्क पहनने को लेकर की जा रही पुलिस चेकिंग के लिए नहीं था बल्कि बैरिकेडिंग लगाकर आम लोगों को परेशान किए जाने को लेकर था।

पूर्व में वायरल हुआ वीडियो

उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले अमीन कागजी का एक वीडियो पूरे शहर में चर्चा का विषय बन गया था। वीडियो में विधायक गुस्से में पुलिस कार्रवाई का विरोध करते दिखाई दिए, इस दौरान उन्होंने अपना मास्क भी उतार दिया और एक चबूतरे पर बैठ गए।

हुआ यूं कि पुलिस आयुक्तालय से जारी आदेशों की पालना में शनिवार को जालूपुरा थाना पुलिस की ओर से जालूपुरा में सड़क पर बेरिकेटिंग कर बिना मास्क वाहन चला रहे लोगों के चालान किए जा रहे थे। इस दौरान पुलिस की ओर से अन्य वाहन चालकों के कागज भी चैक किए जा रहे थे। बिना हेलमेट वाहन चला रहे चालकों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई। कहा जा रहा है कि इस दौरान पुलिस ने एक पॉवर बाइक को पकड़ लिया। किसी ने इसकी सूचना विधायक कागजी को दे दी, तो कागजी मौके पर पहुंच गए और पुलिस अधिकारियों पर वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई करने से खफा हो गए। वीडियो में वह कहते दिख रहे हैं कि पुलिस बेवजह वाहन चालकों को परेशान कर रही है। इसके लिए वह मुख्यमंत्री से बात कर लेंगे व कमिश्नर से बात कर लेंगे। विधायक की नाराजगी के बाद मौके में मौजूद पुलिस अधिकारी ने बेरिकेटिंग हटाने के निर्देश दे दिए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *