153 players of state will get out of turn appointment in state service

प्रदेश के 153 खिलाड़ियों को मिलेगी राजकीय सेवा में आउट ऑफ टर्न नियुक्ति

खेल जयपुर

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य में खेलों को बढ़ावा देने एवं खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने के लिए राजस्थान के राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के 153 खिलाडिय़ों को राजकीय सेवा में आउट ऑफ टर्न नियुक्ति देने का महत्वपूर्ण निर्णय किया है।

गहलोत ने इन 153 खिलाडिय़ों की राजकीय सेवा में नियुक्ति के लिए प्रस्ताव का अनुमोदन कर दिया है। प्रस्ताव के अनुसार ग्रेड-ए में 2, ग्रेड-बी में 5 तथा ग्रेड-सी में 146 खिलाडिय़ों को आउट ऑफ टर्न नियुक्ति दी जाएगी।

ओलंपिक खेलों में कोटा प्राप्त करने वाले निशानेबाज़ दिव्यांश सिंह पंवार और टोक्यो पैरालिम्पिक खेलों में कोटा प्राप्त करने वाली पैरा शूटर अवनी लेखरा को ग्रेड-ए में नियुक्ति दी जायेगी। लेखरा को सहायक वन संरक्षक (एसीएफ) के पद पर नियुक्ति दी जाएगी।

पंवार ने पुलिस उप अधीक्षक के पद के लिए आवेदन किया है, लेकिन उनकी आयु 18 वर्ष है, जबकि पुलिस उप अधीक्षक पद पर नियुक्ति के लिए न्यूनतम आयु 21 वर्ष है। पंवार अभी नियुक्ति प्राप्त करना चाहते हैं तो उन्हें सहायक वन संरक्षक के पद पर नियुक्ति दी जा सकती है, अन्यथा न्यूनतम आयु पूर्ण करने पर उन्हें पुलिस उप अधीक्षक पद पर नियुक्ति दी जाएगी।

ग्रेड-बी में ताइक्वांडो के खिलाड़ी जरनैल सिंह एवं एथलीट शेर सिंह को पुलिस विभाग में उप-निरीक्षक के पद पर, हैण्डबॉल खिलाड़ी उमा को क्षेत्रीय वन अधिकारी ग्रेड-प्रथम, एथलीट खेताराम को शारीरिक प्रशिक्षक अनुदेशक-द्वितीय और नौकायन के खिलाड़ी जाखर खान को आबकारी रक्षक के पद पर नियुक्ति दी जाएगी।

ग्रेड-सी में कुल 146 खिलाडिय़ों को नियुक्ति प्रदान किये जाने का निर्णय किया गया है। इनमें से 119 खिलाडिय़ों को अभी नियुक्ति दी जायेगी एवं 27 खिलाडिय़ों को वैरीफिकेशन के बाद नियुक्ति मिलेगी। इनके वैरीफिकेशन के प्रकरण खेल महासंघों एवं भारतीय ओलंपिक संघ को भेजे गए हैं। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व मुख्यमंत्री की पहल पर ग्रेड-ए में 11 और ग्रेड-बी में 18 कुल 29 खिलाडिय़ों को राजकीय सेवा में आउट ऑफ टर्न नियुक्ति दी गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *