department-of-local-self-government-bowed-to-ras-rms-officers-corrected-wrong-transfers

नगर निगम हैरिटेज में 3 जूनियर अधिकारी फिर बने ‘बॉस’

जयपुर

जयपुर। नगर निगमों में जूनियर अधिकारियों को ‘बॉस’ बनाने की परंपरा चल निकली है। सोमवार को नगर निगम हैरिटेज के आयुक्त लोकबंधु ने आदेश जारी कर तीन राजस्व अधिकारियों को उपायुक्त के पद पर लगाया है।

जारी आदेश के अनुसार राजस्व अधिकारी श्वेता असवाल को सचिव के अतिरिक्त डे एनयूएलम उपायुक्त का प्रभार सौंपा गया है। राजस्व अधिकारी हंसा मीणा को उपायुक्त उद्यान बनाया गया है। वहीं राजस्व अधिकारी छगन यादव को ओएसडी के साथ-साथ उपायुक्त फायर का भी प्रभार सौंपा गया है।

निगम सूत्रों का कहना है कि नगर निगम ग्रेटर में सबसे पहले एक कर निर्धारक को उपायुक्त बनाया गया था। बाद में विरोध के कारण इस कर निर्धारक को एपीओ कर दिया गया। बाद में इन्हें स्मार्ट सिटी कंपनी में लगा दिया गया। वर्तमान में यह कर निर्धारक अपनी राजनीतिक पहुंच के कारण फिर से उपायुक्त बनी है। इसके बाद अब हैरिटेज में राजस्व अधिकारियों को उपायुक्त पद का प्रभार सौंपा गया है। ऐसे में कहा जा रहा है कि अब निगमों में यह परंपरा चल निकली है, जिसने जूनियर अधिकारियों के ‘बॉस’ बनने के रास्ते खोल दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *