Neighbor youth arrested for murder of female teacher

महिला शिक्षिका की हत्या के आरोप में पड़ौसी युवक गिरफ्तार

जयपुर

जयपुर। राजधानी में शिप्रापथ थाना इलाके के थड़ी मार्केट में सोमवार सुबह एक घर में महिला शिक्षिका की हत्या करने के मामले में आरोपी पडोसी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। शिक्षिका का उसके पड़ौसी युवक से कुत्ता घुमाने के मामले में विवाद चल रहा था। हत्या के बाद आरोपी महिला के घर से पर्स और कीमती सामान भी ले गया था।

राजधानी में सनसनी फैलाने वाले इस हत्याकांड के बारे में अति. पुलिस आयुक्त(प्रथम) जयपुर अजयपाल लाम्बा ने बताया कि पुलिस को सुबह करीब 9 बजकर 50 मिनट पर सूचना मिली की थडी मार्केट, मानसरोवर में एक महिला के हाथ, पैर व मुंह बंधे हुए अवस्था में मिली है जिसकी किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा हत्या कर लूट की वारदात को अंजाम दिया गया।

सूचना प्राप्त होते ही पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की पड़ताल शुरू की। दिनदहाडे घनी आबादी क्षेत्र में हत्या व लूट की वारदात से पूरे इलाके में भय का माहौल व्याप्त था। ऐसे में पुलिस के सामने वारदात को अंजाम देने वाले अज्ञात अपराधी का पता लगाना काफी चुनौती पूर्ण कार्य था।

अपराधी की तलाश के लिए पुलिस उपायुक्त जयपुर दक्षिण हरेन्द्र महावर व अति. पुलिस उपायुक्त जयपुर दक्षिण अवनीश कुमार शर्मा के मार्गदर्शन में एसीपी मानसरोवर संजीव चौधरी व एसीपी चाकसू अर्जुनराम चौधरी के नेतृत्व में 10 टीमों का गठन किया गया। जिसमें सीएसटी, डीएसटी व जिला जयपुर दक्षिण के करीब 100 से अधिक पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों को शामिल किया गया और उन्हें अलग-अलग टास्क दिए गए।

पुलिस टीमों ने आसपास के संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ की आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग चैक की गई। कुछ सदिग्धों से गहनता से पूछताछ की गई, पूछताछ में एक संदिग्ध युवक द्वारा बताई गई बातों का सत्यापन किया तो बातों एवं वास्तविकता में भिन्नता पायी गई। इस पर उस संदिग्ध से गहनता से पूछताछ की गई। संदिग्ध कृष्णकान्त शर्मा उर्फ कृष्णा पुत्र विजय कुमार शर्मा उम्र 19 साल थड़ी मार्केट, मानसरोवर को हिरासत में लिया गया।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी कृष्णकान्त मृतका विद्या देवी के पडोस में ही रहता है और उसी सुबह ही मृतका से कहासुनी हुई थी। उसके चहरे पर चोट के निशान थे और वह घटना के वक्त कहां था इसके बारे में कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पा रहा था। आरोपी ने पुलिस को गुमराह करने के लिये बताया कि वह उस समय ट्यूशन गया हुआ था।

गहन पूछताछ में आरोपी ने वारदात करना स्वीकार किया। पुलिस के अनुसार मृतका विद्या देवी और आरोपी कृष्णकान्त बीच कुछ समय से विवाद चल रहा था। कुत्ता घुमाने के दौरान टोका-टाकी करने से युवक महिला से नाराज था। सोमवार सुबह आरोपी के कुत्ते ने विद्या देवी के घर के सामने गंदगी कर दी। इस बात को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई। तभी उसने महिला को ठिकाने लगाने की योजना बनाई। जब मृतका गाय को चारा डालने गई तो आरोपी ने उसके घर में घुसकर ऊपर का दरवाजा खोल दिया और पुन: अपने घर वापस आ गया। फिर दोबारा उपर के दरवाजे से जाकर उसने वारदात को अंजाम दिया।

आरोपी छत के रास्ते महिला के घर में घुसा लेकिन महिला ने उसे पहचान लिया और उसके साथ संघर्ष किया। आरोपी ने महिला का चुन्नी से गला घोंट दिया। इसके बाद चुन्नियों से ही हाथ-पैर सीढिय़ों की रेलिंग से बांधकर छत के रास्ते फरार हो गया। इस दौरान आरोपी पर्स और कीमती सामान भी ले गया। मामले का खुलासा होने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार स्कूल के एक अध्यापक ने अध्यापिका विद्या को फोन किया। विद्या ने फोन रिसीव नहीं किया। इस पर अध्यापक ने फोन कर पड़ोसी महिला से जानकारी ली। पड़ोसी महिला का बेटा अध्यापिका के मकान की छत के खुले पड़े गेट से अंदर पहुंचा तब वारदात का पता चला। विद्या घर में अकेली ही रहती थी। उसका पुत्र बाहर नौकरी करता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *