BJP mai charam par groupism, kya samjhote ki taiyaari

भाजपा के हैशटैग ‘कब होगा न्याय’ अभियान की 5 करोड़ से अधिक रीच

जयपुर राजनीति

जयपुर। भाजपा के ट्विटर पर ‘हल्ला बोल’ अभियान के अंतर्गत हैशटैग ‘कब होगा न्याय’ के समर्थन में 27 हजार से ट्वीटस किए गए और 5 करोड़ से अधिक रीच रही।

कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी की तमाम रुकावटों के बावजूद भाजपा ने यह कमाल किया है। भाजपा कोरोना के चलते सोशल डिस्टेंसिंग के कारण कांग्रेस सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ सड़क पर उतरकर आंदोलन नहीं कर सकती थी।

ऐसे में भाजपा सोशल मीडिया पर जबरदस्त सक्रिय रही और 28 अगस्त से लेकर 10 सितंबर तक विभिन्न चरणों में भाजपा द्वारा चलाये गये ‘हल्ला बोल’ अभियान में धरना-प्रदर्शन एवं ज्ञापन कार्यक्रमों में लाखों कार्यकताओंं, पदाधिकारियों एवं आमजन ने सक्रिय भागीदारी निभाई।


अभियान को ट्विटर एवं फेसबुक पर भी भरपूर जनसमर्थन मिला। ट्विटर पर ‘हल्ला बोल’ अभियान के अंतर्गत हैशटैग ‘कब होगा न्याय’ के समर्थन में 27 हजार से ट्वीटस किए गए और 5 करोड़ से अधिक पहुंच रही। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने ट्वीट कर प्रदेश भाजपा आइटी टीम को बधाई दी।


हैशटैग ‘कब होगा न्याय’ के साथ डॉ. सतीश पूनियां ने ट्वीट किया कि, भाजपा प्रदेशभर में कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ पानी, बिजली, लचर कानून व्यवस्था, राशन, स्कूल, सड़क, कोरोना कुप्रबंधन, कर्जा माफ़ी, टिड्डी हमला आदि को लेकर जिला केन्द्रों पर हुए सफ़ल ‘हल्ला बोल’ के लिए सभी कार्यकताओं का धन्यवाद।


प्रदेश भाजपा आइटी प्रभारी अविनाश जोशी ने बताया कि हैशटैग ‘कब होगा न्याय’ के साथ भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां, प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, तमाम सांसदों, विधायकों, प्रदेश पदाधिकारियों, जिला अध्यक्षों एवं कार्यकताओं ने जनविरोधी नीतियों के खिलाफ ट्वीट कर कांग्रेस सरकार को कठघरे में खड़ा किया।


प्रदेश भाजपा सोशल मीडिया प्रभारी हीरेन्द्र कौशिक ने बताया कि हैशटैग ‘कब होगा न्याय’ अभियान के समर्थन में 27 हजार से अधिक ट्वीटस किए गए, जो दिनभर नेशनल ट्रेंड में रहा और 5 करोड़ से अधिक रीच रही। इससे पहले 29 अगस्त को हैशटैग ‘गहलोत सरकार होश में आओ’ के समर्थन में 25 हजार से अधिक ट्वीटस, 28 अगस्त को हैशटैग ‘भाजपा का हल्ला बोल’ के समर्थन में 15 हजार से अधिक ट्वीटस हुए, भाजपा के इन सभी ट्विटर अभियानों को शानदार जनसमर्थन मिला, और सभी अभियान ट्विटर पर नेशनल ट्रेंड में भी रहे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *