Control rooms will be set up in the offices of Ayurveda department, medical workers leave canceled with immediate effect

आयुर्वेद विभाग के कार्यालयों में स्थापित होंगे कंट्रोल रूम, चिकित्साकर्मियों के अवकाश तुरंत प्रभाव से निरस्त

जयपुर

चिकित्सा, स्वास्थ्य व आयुर्वेद मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा है कि राज्य का आयुर्वेद व भारतीय चिकित्सा विभाग कोराना महामारी से आमजन को बचाने के लिए पूर्णरूप से प्रयासरत है। महामारी के चलते आयुर्वेद विभाग के उपनिदेशक स्तर के कार्यालयों में कंट्रोल रूम स्थापित किए जाएंगे। जहां विभाग की ओर से किए जा रहे प्रतिदिन के कार्यों की जानकारी एकत्रित की जाएगी। महामारी के चलते सभी चिकित्साकर्मियों के अवकाश तुरंत प्रभाव से निरस्त किए जाते है।

डॉ. शर्मा ने कहा कि कोरोना महामारी से बचाव व जागरुकता सबंधी सरल व घरेलू उपाय की जानकारी विभाग के चिकित्सा स्वास्थ्य केन्द्रों से दी जाएगी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि आयुर्वेद, होम्यापैथी व यूनानी विभाग की ओर से आमजन की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए काढ़ा वितरित किया जाए। कोविड-19 से सबंधित औषधियों को खरीदने व उनकी सप्लाई को तुरंत सुनिश्चित करने के भी आधिकारियों को निर्देश दिए गए है।

चिकित्सा मंत्री ने कहा कि जिन क्षेत्रों में कोरोना का फैलाव अधिक है वहां आयुर्वेदीय बचाव, रोकथाम व चिकित्सा के लिए विशेष कैम्प आयोजित किए जाएंगे। आयुर्वेद, होम्योपैथी व यूनानी विभाग से सबंधित सभी दैनिक रिपोर्ट शाम छह बजे तक राज्य सरकार को भेजना अनिवार्य है।

डॉ. शर्मा ने कहा कि राजस्थान आयुर्वेद विश्वविद्यालय, जोधपुर व राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय उदयपुर अपने संभाग में चल चिकित्सा शिविर आयोजित करेंगे, जहां नि:शुल्क औषधि वितरित की जाएगी। होम्योपैथिक चिकित्सा विभाग अपनी दोनों मोबाइल यूनिट के जरिए कैम्प आयोजित करेगा। यह सभी कैम्प बिना किसी अवकाश के आयोजित किए जाएंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *