दशकों बाद दूर होगी पृथ्वीराज नगर की पानी की समस्या

जयपुर स्वास्थ्य

मुख्यमंत्री ने किया पेयजल योजनाओं का शिलान्यास

जयपुर। एशिया की सबसे बड़ी आवासीय परियोजना पृथ्वीराज नगर के लोगों में उस समय खुशी की लहर दौड़ गई, जब मुख्यमंत्री ने पृथ्वीराज नगर के लिए पेयजल योजना का शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बीसलपुर-पृथ्वीराज नगर पेयजल परियोजना फेज-1, स्टेज-1 और बीसलपुर-जयपुर पेयजल परियोजना फेज-1, स्टेज-2 का शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं पर 853 करोड़ रुपए की लागत आएगी। बीसलपुर-जयपुर परियोजना से शहर के सभी विधानसभा क्षेत्रों में 170 एमएलडी अतिरिक्त जल उपलब्ध होगा।

इस अवसर पर गहलोत ने कहा कि प्रदेशवासियों को बेहतर शिक्षा, चिकित्सा, बिजली, पानी सहित अन्य मूलभूत सुविधाए उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। कोरोना महामारी की विषम परिस्थितियों में भी सरकार विकास कार्यों को लगातार गति दे रही है, ताकि आमजन को इसका लाम मिल सके।

गहलोत ने कहा कि पेयजल आवश्यकताओं को देखते हुए कंटीन्जेंसी प्लान के तहत 65 करोड़ रुपए की मंजूरी दी गई है, वहीं हर विधानसभा क्षेत्र में भी पेयजल सुविधाओं के लिए 25 लाख रुपए की स्वीकृती दी गई है।

जलदाय मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला ने कहा कि बीसलपुर-पृथ्वीराज नगर परियोजना पर करीब 563 करोड़ 93 लाख रुपए और बीसलपुर-जयपुर परियोजना पर 288 करोड़ 90 लाख रुपए खर्च होंगे। यह परियोजनाएं वर्ष 2051 तक की पेयजल आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर बनाई गई है। इस परियोजना से पृथ्वीराज नगर के लोगों को वर्ष 2022 में पानी मिल सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *