ACB scaled

एचपीसीएल (HPCL) के अधिकारी एसीबी (ACB) के टार्गेट पर, डिप्टी जनरल मैनेजर (DGM) और दलाल 2 लाख की रिश्वत (bribe) के साथ गिरफ्तार, एक साथ 6 स्थानों पर कार्रवाई

जयपुर क्राइम न्यूज़

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की अजमेर इकाई के इंटेलिजेंस यूनिट ने एचपीसीएल ( HPCL) के डिप्टी जनरल मैनेजर (DGM) राजेश कुमार सिंह और दलाल किशन विजय को जयपुर में 2 लाख की रिश्वत (bribe) लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

हिंदुस्तान पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड (HPCL) नामक पब्लिक सेक्टर उपक्रम में व्यापक भ्रष्टाचार की शिकायतें प्राप्त होने पर ब्यूरो के महानिदेशक बीएल सोनी और अतिरिक्त महानिदउशक दिनेश एमएन के निर्देशन में कंपनी के संदिग्ध अधिकारियों पर निरंतर निगरानी रखी जा रही थी और उनके क्रियाकलापों की जांच की जा रही थी।

WhatsApp Image 2021 06 20 at 21.52.47
WhatsApp Image 2021 06 20 at 21.52.47 1

इसी के तहत रविवार को अजमेर इंटेलिजेंस यूनिट के डीएसपी पारस मल ने कोटा में पदस्थापित राकेश कुमार सिंह पर कार्रवाई करते हुए उन्हें व दलाल को जयपुर से गिरफ्तार किया। रिश्वत की दो लाख की रकम में से एक लाख रुपए राकेश द्वारा निवाई स्थित दीक्षा पेट्रोल पंप के मालिक प्रदीश वर्मा से उनके पेट्रोल पंप के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के एवज में लिए थे।

राजेश द्वारा अन्य पेट्रोल पंप मालिकों से भी पेट्रोल पंप के लाइसेंस, अनापत्ति प्रमाण पत्र आदि मामलों में रिश्वत लिए जाने के साक्ष्य मिले हैं। कार्रवाई के दौरान आरोपियों के अतिरिक्त कुछ अन्य संदिग्ध अधिकारियों से भी पूछताछ की जा रही है। फिलहाल जयपुर, कोटा, सवाई माधोपुर, खंडार, अलीगढ़ (टोंक) व निवाई में कार्रवाई की जा रही है। एसीबी ने एक संदिग्ध अधिकारी के अजमेर स्थित निवास को भी सील किया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *