In the press conference, Chief Minister Gehlot drew the blueprint for the return of the government

पत्रकार वार्ता (press conference) में मुख्यमंत्री गहलोत (CM Gehlot) ने सरकार वापसी (return of the government) का खाका खींचा

जयपुर

जयपुर। पिंक सिटी प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस से मिलिए (press conference) कार्यक्रम में सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Gehlot) ने प्रदेश में फिर से कांग्रेस सरकार की वापसी return of the government) का खाका खींचा। गहलोत अलग ही अंदाज में नजर आए और लगातार मोदी-शाह और भाजपा पर तीखे प्रहार किए। बार-बार सरकार रिपीट के दावे पर पूछे सवाल के जवाब में गहलोत ने फिर कहा कि सरकार के खिलाफ कोई एंटी इंकंबेेंसी नहीं है, इसलिए हम फिर से सत्ता में आएंगे।

मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के बयान पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने जिन शब्दों का प्रयोग किया है, वह उनका इस्तेमाल नहीं कर सकते, लेकिन उन्हें लगता है कि राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने पीएम मोदी के लिए अंडरस्टैंडिंग के तहत यह बयान दिया है। गहलोत ने साफ कहा कि अभी केंद्र में भाजपा या एनडीए की नहीं, बल्कि दो लोगों अमित शाह और नरेंद्र मोदी की सरकार है। गहलोत ने निशाना साधते हुए कहा कि मोदी-शाह ने राजस्थान में सरकार गिराने की साजिश रची।

भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा विपक्ष का धर्म भी नहीं निभा पा रही है। इनकी पार्टी में आठ-आठ मुख्यमंत्री के उम्मीदवार हैं। एक तो केंद्रीय मंत्री हैं, जो सरकार गिराने में लगे थे। आवाज के नमूने देने से भाग रहे हैं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कई लोग उन्हें चाणक्य कहते हैं, लेकिन मैं कोई चाणक्य नहीं हूं, मैं सच्चाई के रास्ते पर चलता हूं।

गहलोत के इन बयानों को सरकार वापसी के परिप्रेक्षय में देखा जाए तो साफ पता चलता है कि उनकी निगाह किस ओर है। उन्होंने अपने बयानों से साफ इशारा कर दिया है कि भाजपा में इस समय सिर्फ और सिर्फ मोदी-शाह की चल रही है। जो इनके खिलाफ हुआ, उनका पत्ता कटने में देर नहीं लगेगी।

राजस्थान भाजपा में आठ-आठ मुख्यमंत्री दावेदारों की बात कहकर उन्होंने जता दिया कि आने वाले समय में भाजपा के टुकड़े होना संभव है और जो मोदी-शाह के विरोध में रहेंगे, उन्हें भाजपा से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाएगा। इसका पूरा-पूरा फायदा कांग्रेस को मिलेगा और उसकी सत्ता में वापसी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.