bhatta basti ACB karyawahi

जयपुर में एसीबी ( ACB) की बड़ी कार्रवाई, भट्टाबस्ती थानाधिकारी के सरकारी आवास से अवैध हथियार, मादक पदार्थ बरामद, हैड कांस्टेबल द्वारा रिश्वत लिए जाने के बाद हुई तलाशी में हुआ खुलासा, थानाधिकारी फरार

जयपुर

राजस्थान पुलिस के सिर सोमवार को एक नया कलंक लग गया है। रिश्वत के एक मामले में जब एसीबी (ACB) ने जयपुर के भट्टाबस्ती थाना प्रभारी के सरकारी आवास की तलाशी ली तो वहां उन्हें अवैध हथियार और मादक पदार्थ बरामद हुए हैं। रिश्वत के मामले में एसीबी ने थाने के हैडकांस्टेबल को गिरफ्तार किया, लेकिन इस दौरान थाना प्रभारी मौके से फरार हो गए, जिस पर थाना प्रभारी के आवास की तलाशी ली गई थी।

मुख्यालय के निर्देश के बाद एसीबी की जयपुर देहात इकाई की ओर से सोमवार को थाना भट्टा बस्ती में यह कार्रवाई की गई। एसीबी ने परिवादी से 15 हजार रुपए की मासिक बंधी लेते हुए हैड कांस्टेबल अब्दुल रऊफ को रंगे हाथों गिरफ्तार किया। ब्यूरो के महनिदेशक बीएल सोनी ने बताया कि क्षेत्र के एक निर्माण सामग्री विक्रेता ने इस संबंध में एसीबी को परिवाद दिया था। निर्माण सामग्री परिवहन में लगी पिकअप के परिचालन में बाधा नहीं पहुंचाने के एवज में रऊफ द्वारा 20 हजार रुपए की रिश्वत मांग कर दुकानदार को परेशान किया जा रहा था।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरोत्तम लाल वर्मा के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन कराया गया और उप अधीक्षक संजय कुमार की टीम ने कार्रवाई करते हुए हैड कांस्टेबल रऊफ को 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया। भट्टाबस्ती थानाधिकारी राजेंद्र सिंह शेखावत की भूमिका इस मामले में संदिग्ध पाई गई। सामने आया कि यह बंधी थानाधिकारी के नाम से ही मांगी जा रही थी। एसीबी की कार्रवाई के दौराना थानाधिकारी शेखावत एसीबी टीम को गच्चा देकर पीछे के दरवाजे से फरार हो गया। एसीबी शेखावत को तलाश कर रही है।

सरकारी आवास से यह हुआ बरामद
शेखावत के फरार होने के बाद एसीबी ने थाना परिसर स्थित उसके आवास की तलाशी ली। तलाशी में उसके आवास से 315 बोर का देशी कट्टा, 9 कारतूस 315 बोर, दो कारतूस 7.62 एमएम, , 5 कटार के साथ एक किलो 400 ग्राम गांजा बरामद किया। अवैध हथियार और मादक पदार्थ पाए जाने पर शेखावत के खिलाफ अलग से मामला दर्ज किया गया है। थानाधिकारी और हैड कांस्टेबल के अन्य ठिकानों की भी एसीबी की ओर से तलाशी ली जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *