जयपुरराजनीति

‘ जब माला टंग जाएगी, तब टिकट मिलेगा क्या..!’ जयपुर से दिल्ली पहुंचे कांग्रेसियों का हंगामा

मंगलवार को एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें मालवीय नगर क्षेत्र से टिकट मांग रहे कांग्रेसी नेता प्रदेश की सह प्रभारी अमृता धवन से अर्चना शर्मा की शिकायत करते दिख रहे हैं। कांग्रेस की पहली सूची ही अब तक नहीं आई है, जिससे टिकट दावेदारों की सांसें अटकी हुई हैं। हर कोई जानना चाहता है कि प्रत्याशियों की सूची में उसका नाम है या नहीं। इसमें मौजूदा विधायकों से लेकर संभावित दावेदार व संगठन के पदाधिकारी भी शामिल हैं।
जयपुर के कांग्रेस नेताओं ने पिछले दो दिन से दिल्ली में डेरा डाला हुआ है। वहीं, मंगलवार को एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें मालवीय नगर क्षेत्र से टिकट मांग रहे कांग्रेसी नेता प्रदेश की सह प्रभारी अमृता धवन से अर्चना शर्मा की शिकायत करते दिख रहे हैं। बताया जा रहा है कि अर्चना शर्मा को टिकट की हामी भरने की अफवाह फैली थी, जिससे दूसरे दावेदार सक्रिय हो गए।
रंधावा से मिलने दिल्ली पहुंच गए
मालवीय नगर से दावेदार अमृता धवन व प्रदेश प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा से मिलने दिल्ली पहुंच गए। यहां जीआरजी बंगला-15 में स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक चल रही थी और बाहर मालवीय नगर के दावेदारों ने हंगामा कर दिया।
70 लोगों ने किया हंगामा
विरोध करने वालों में राजसिको के चेयरमैन राजीव अरोड़ा, विप्र बोर्ड के चेयरमैन महेश शर्मा, राजस्थान, प्रदेश युवा कांग्रेस के पूर्व महासचिव कमल शर्मा, पीसीसी उपाध्यक्ष सुशील शर्मा, पूर्व एनएसयूआई अध्यक्ष कृष्णकुमार हरितवाल, एआईसीसी मेंबर वेदप्रकाश शर्मा और पीसीसी की पूर्व सचिव संगीता गर्ग समेत करीब 70 लोग शामिल थे।
अर्चना शर्मा पर सीधा निशाना
इन लोगों ने यहां तक कह दिया कि वे पिछले 30 साल से मालवीय नगर में सक्रिय हैं, इसके बावजूद भी पार्टी फिर से ऐसे प्रत्याशी को मैदान में उतारना चाहती है, जो दो बार से लगातार हार रहे और पार्षदों तक की सुनवाई नहीं कर रहे। लोगों का सीधा निशाना मालवीय नगर से विधायक का चुनाव लड़ चुकीं अर्चना शर्मा पर था।
वायरल वीडियो में अर्चना की शिकायत करते दिख रहे कांग्रेसी
महेश शर्मा ने कहा कि युवा कांग्रेस से कमल शर्मा हैं, राजसिको से राजीव अरोड़ा हैं, मैं खुद विप्र बोर्ड से हूं। हम भी 18 से 20 घंटे पार्टी के लिए काम कर रहे हैं। हमें भी पिछली बार आलाकमान ने कहा था कि इस बार आप त्याग करो, आप संगठन संभालो, अगली बार आपका ध्यान रखा जाएगा।
संगीता गर्ग बोलीं-उन्हें 2004 में पार्षद का चुनाव हमने लड़वाया था, तब भी तैयारी मैंने की थी।
राजीव अरोड़ा ने पार्षद राजेश कुमावत की ओर इशारा करते हुए कहा कि ये मालवीय नगर से पार्षद हैं। मैं सड़क के उद्घाटन के लिए गया तो तीन महीने तक इनकी रोड ही नहीं बनने दी गई। इनका मकान तक सीज करवा दिया।
कमल शर्मा ने कहा कि जब सरकार विपक्ष में थी तो हम लोगों ने पूरे पांच साल आंदोलन किए थे। आखिर कांग्रेस आलाकमान ने किस बात का सर्वे करवाया है।
सुशील शर्मा बोले-आपने जिन लोगों से मिलने के लिए कहा उन सभी से मिल चुके हैं। अब आप ही निर्णय करेंगी।
अर्चना का जवाब
इस बारे में अर्चना शर्मा का कहना है कि दिल्ली में कौन विरोध करने पहुंचा है, मुझे जानकारी नहीं है। मैं तो जयपुर में ही हूं, क्षेत्र में किसी कार्यक्रम में शामिल होने आई हूं। पार्टी जो भी निर्देश देगी मान्य होगा।
नया पेच: कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष खरगे के सर्वे के बाद तय होंगे टिकट
अब बताया जा रहा है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा भी सर्वे करवाया जा रहा है, इसमें वे सीटें शामिल हैं, जो लंबे समय तक भाजपा के कब्जे में रहीं और जहां पिछली बार कांग्रेस बड़ी मुश्किल से जीती थी।
इन सीटों पर सबसे ज्यादा माथापच्ची
जयपुर की हवामहल, किशनपोल, बगरू व झोटवाड़ा विधानसभा सीट पर सबसे आखिर में नाम तय होना बताया जा रहा है। इसमें हवामहल व किशनपोल में तो मौजूदा विधायकों के खिलाफ नाराजगी है।

Related posts

देश के बच्चे (Country’s children) भी होंगे कोरोना मुक्त (corona free), 2-18 वर्ष तक के बच्चों को कोवैक्सिन (covaxin) लगाने की मंजूरी (allowed)

admin

Rajasthan: बिजली उपभोक्ताओं को अब नहीं देना होगा फ्यूल सरचार्ज, राज्य सरकार वहन करेगी 2500 करोड़ रुपए

Clearnews

राजस्थान में अक्षय ऊर्जा परियोजना के लिए बनेगा जियो मेंपिंग आधारित डेटा बैंक, प्रदेश में 14.5 गीगावाट क्षमता विकसित

admin