jal jeevan mishan ke tahat jaladaay vibhaag har varsh sarvashreshth pradarshan (best performance) par 2 sambhaageey aayukt (divisional commissioner), 3 atirikt mukhy abhiyanta, 5 jila kalaktar aur 5 adheekshan abhiyantaon ko sammaanit karega

जल जीवन मिशन के तहत जलदाय विभाग हर वर्ष सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन (Best Performance) पर 2 सम्भागीय आयुक्त (Divisional Commissioner), 3 अतिरिक्त मुख्य अभियंता, 5 जिला कलक्टर और 5 अधीक्षण अभियंताओं को सम्मानित करेगा

जयपुर ताज़ा समाचार

प्रदेश में जल जीवन मिशन (जेजेएम) के तहत ‘हर घर नल कनेक्शन’ के लक्ष्यों को हासिल करने में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले अधिकारियों को जलदाय विभाग हर साल राज्य स्तरीय समारोह में सम्मानित करेगा। इसके लिए जिला एवं संभाग स्तर पर अधिकारियों की उपलब्धियों के मूल्यांकन के लिए विभाग द्वारा ‘परफॉर्मेंस ऑडिट मैकेनिज्म’ तैयार किया गया है। इसमें निर्धारित पैरामीटर्स के तहत सम्भागीय आयुक्त एवं जिला कलक्टर्स के अलावा विभाग के रीजन स्तर पर कार्यरत अतिरिक्त मुख्य अभियंता और जिला स्तर पर अधीक्षण अभियंता के प्रदर्शन का आकलन किया जाएगा।

विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधांश पंत ने बताया कि जेजेएम के तहत प्रदेश के 43 हजार 362 गांवों के 101 लाख 32 हजार परिवारों को वर्ष 2024 तक ‘हर घर नल कनेक्शन’ से जोड़ा जाना है। इनमें से अब तक 20 लाख 7 हजार से अधिक परिवारों को ‘हर घर नल कनेक्शन’ जारी किए जा चुके हैं। चालू वित्तीय वर्ष में प्रदेश में 30 लाख परिवारों को ‘हर घर नल कनेक्शन’ की सुविधा देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। वार्षिक लक्ष्यों को निर्धारित समय सीमा में प्राप्त करने के लिए सभी स्तरों पर कड़ी मेहनत की जरूरत है। अधिकारियों को प्रेरित करने के लिए यह मैकेनिज्म बनाया गया है। इससे उनकी रैंकिंग तय की जाएगी।

कार्य दक्षता के आधार पर मिलेंगे मार्क्स
पंत ने बताया कि रैंकिंग सिस्टम से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के आधार पर प्रति वर्ष चार श्रेणियों में 2 सम्भागीय आयुक्त, 5 जिला कलक्टर्स, 3 अतिरिक्त मुख्य अभियंता और 5 अधीक्षण अभियंताओं का चयन किया जाएगा। इन चार श्रेणियों में अधिकारियों की दक्षता और कार्यकुशलता के मूल्यांकन के लिए अलग-अलग पैरामीटर्स निर्धारित किए गए है। जेजेएम के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए प्रत्येक श्रेणी में कुछ मापदंड बनाए गए है, इनमें प्रदर्शन के आधार पर अंक दिए जाएंगे। शुरुआत में वर्ष 2021-22 में जेजेएम के लक्ष्यों की प्राप्ति में उल्लेखनीय योगदान देने वाले अधिकारियों का चयन होगा, जिनको जलदाय विभाग द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय सम्मान समारोह में ‘मोमेंटो एवं प्रशस्ति पत्र’ प्रदान किए जाएंगे।

सम्भागीय आयुक्तों को बड़ा टास्क
पंत ने बताया कि प्रदेश के सभी सात सम्भागीय मुख्यालयों पर तैनात संभागीय आयुक्तों को अपने अधीन आने वाले जिलों में वार्षिक लक्ष्यों के अनुरूप ‘हर घर नल कनेक्शन’ तथा सभी घरों में नल कनेक्शन वाले गांवों की संख्या की मॉनिटरिंग का टास्क दिया गया है। जलदाय विभाग में रीजन के प्रभारी एसीई की रैंकिंग तीन मानदंडों के आधार पर तय होगी। सभी जिला कलक्टर्स को अपने जिले में जेजेएम के लक्ष्यों को हासिल करने के लिए सभी कार्यों की नियमित तौर पर सघन मॉनिटरिंग का दायित्व दिया गया है। सभी जिलों में कार्यरत जलदाय विभाग के एसई के प्रदर्शन का आंकलन करने के लिए भी 4 पैरामीटर्स बनाए गए है। सभी कैटेगरी में लक्ष्य की तुलना में पूरी उपलब्धि पर अधिकारियों को पूरे अंक दिए जाएंगे या फिर प्राप्त उपलब्धि के प्रतिशत आधार पर अंक मिलेंगे।

jal jeevan mishan ke tahat jaladaay vibhaag har varsh  sarvashreshth pradarshan (best performance) par 2 sambhaageey aayukt (divisional commissioner), 3 atirikt mukhy abhiyanta, 5 jila kalaktar aur 5 adheekshan abhiyantaon ko sammaanit karega

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *