central park

जेडीए अधिकारियों की लापरवाही से बहा सेंट्रल पार्क का वॉकिंग ट्रेक

जयपुर स्वास्थ्य

जयपुर। राजधानी में 12 अगस्त को हुई मूलसलाधार बारिश से सेंट्रल पार्क का वॉकिंग ट्रेक कई जगहों से बह गया। रही सही कसर 14 अगस्त को हुई सात घंटों की मूसलाधार बारिश ने पूरी कर दी। करीब आधा ट्रेक पानी के तेज बहाव में बह गया।

पोलो ग्राउंड के पास पानी के कटाव से खाई बन गई। अम्बेडकर सर्किल और लिलिपूल के पास दीवारें ढह गई। पार्क में पानी के साथ बहकर आए कचरे के ढेर लग गए। पार्क को गोल्फ क्लब से अलग करने वाली फेंसिंग कई जगहों से उखड़ गई।

पानी में बहे ट्रेक की मरम्मत के लिए शेष बचे ट्रेक पर जेडीए ने ट्रेक्टर दौड़ा दिए, जिससे ट्रेक वॉकिंग के मतलब का नहीं रह गया। जेडीए अधिकारियों की ओर से क्षतिग्रस्त ट्रेक पर मिट्टी मलबा डलवाकर ट्रेक को चलने के लायक बनाया जा रहा है, लेकिन हकीकत यह है कि इस दुर्दशा के लिए खुद जेडीए अधिकारी जिम्मेदार है।

सेंट्रल पार्क के अंदर से दो अंडरग्राउंड नाले निकलते हैं, जिनसे पार्क के पूर्वी हिस्से से आने वाला गंदा पानी आगे निकलता है। एक नाला नारायणसिंह सर्किल की तरफ से गोल्फ कोर्स के अंदर से होता हुआ जनपथ पर मिलता है, तो दूसरा नाला भी गोल्फ कोर्स के अंदर से हाईकोर्ट के सामने स्थित शिव मंदिर के पास से जनपथ पर मिलता है।

गोल्फ कोर्स के लॉन में पानी देने के लिए पहले नाले को गोल्फकोर्स के अंदर से रोका गया है। जबकि दूसरा नाला शिव मंदिर के पास जाम है। इसे खुद जेडीए के कर्मचारियों ने कचरा डाल कर रोक रखा है।

14 अगस्त को यह हुआ

14 अगस्त को शहर में मूसलाधार बारिश के कारण इन नालों में पानी आया, लेकिन दोनों नालों में बहाव बाधित होने के कारण पानी नालों से ओवरफ्लो हुआ और पूरे लॉन में फैल गया। यह पानी पार्क के पश्चिम दिशा में ट्रेक को बर्बाद करता हुआ अंबेडकर सर्किल पर दीवार तोड़ते हुए बाहर निकला।

इसी दौरान नारायणसिंह सर्किल पर जल जमाव हुआ और पानी लिलिपूल के गेट से अंदर आकर यहां की एक दीवार तोड़ते हुए पोलो ग्राउंड में आया और गेट के पास कटाव करते हुए अम्बेडकर सर्किल की तरफ दीवार पर टकराया। वहीं तीसरी ओर टोंक रोड पर लक्ष्मीविलास होटल के गेट से पानी अंदर आया और गोल्फ कोर्स में से होते हुए अम्बेडकर सर्किल की ओर निकला, जिससे आधे से ज्यादा ट्रेक बर्बाद हो गया।

जेडीए के साथ गोल्फ कोर्स भी जिम्मेदार

सेंट्रल पार्क बचाओ संघर्ष समिति के योगेश यादव का कहना है कि भारी बारिश के कारण सेंट्रल पार्क में हुई बर्बादी के लिए जेडीए के साथ गोल्फ कोर्स भी जिम्मेदार है। सेंट्रल पार्क और गोल्फ कोर्स में पानी देने के लिए गंदे नालों के बहाव को रोका जाता है। बारिश के दौरान बहाव खोला नहीं गया, जिससे ट्रेक बर्बाद हुआ।

पानी ज्यादा था, इसलिए अंदर आ गया

सेंट्रल पार्क की देखरेख करने वाले जेडीए के अधिशाषी अभियंता संयज व्यास का कहना है कि इस बारिश में पानी ज्यादा था और वह नारायणसिंह सर्किल की तरफ से अंदर आ गया। पार्क के अंदर से निकलने वाले नालों की हमने सफाई करवा दी थी, नालों में रुकावट नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *