Legislators and Frontline Workers took First Dose of Vaccination

विधानसभा में विधायकों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीनेशन की पहली डोज

जयपुर

जयपुर। राजस्थान विधानसभा में विधायकों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोविड संक्रमण से बचाने के लिए वैक्सीन लगाई गई। उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी, राजस्व मंत्री हरीश चौधरी, सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना सहित 38 विधायकों और 39 फ्रंटलाइन वर्कर्स ने वैक्सीन लगवाई। पहले दिन कुल 77 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लगी। विधानसभा सदस्यों को कोविड-19 के संक्रमण से बचाने के लिए टीकाकरण जारी रहेगा।

उल्लेखनीय है कि देश में पहली बार राजस्थान विधानसभा में ही टीकाकरण की पहल की गई है। अब 28 दिन के बाद दूसरी डोज ले सकते है। वैक्सीन के बाद सभी को मौके पर ही वैक्सीनेशन का प्रमाण पत्र दिया गया।

उच्च शिक्षा राज्य मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि कोविड-19 से देश और राज्य मुक्त होने की ओर है लेकिन फिर से संक्रमितों की संख्या बढ़ने लगी है इसलिए प्रदेशवासियों से आग्रह है कि इसके कोई साइड इफेक्ट नहीं है और इसीलिए सभी को वैक्सीन लगवानी चाहिए।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य व सूचना एवं जनसंपर्क राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने टीकाकरण स्थल पर व्यवस्थाओं का अवलोकन करते हुए कहा कि मंत्री, विधायकों और जनप्रतिनिधियों के आगे आकर वैक्सीन लगाने से आमजन भी भय मुक्त हो रहा है। समाज में एक सकारात्मक संदेश जा रहा है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की ओर से वैक्सीन की सुविधा नि:शुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। वैक्सीन लगाने के बाद भी कोविड-19 की गाइडलाइंस को फॉलो करना चाहिए। सोशल डिस्टेंसिंग रखें, सैनेटाइज का इस्तेमाल करें।

सबसे पहले उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने टीका लगवाया। इसके बाद में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व विधायक दीपेंद्र सिंह शेखावत, बाबूलाल नागर, अमीन खां, राजकुमार शर्मा, नारायण सिंह देवल, बलवान पूनियां, ज्ञान सिंह, जे.पी, चंदेलिया, सुभाष पूनियां, राजेंद्र सिंह गुढ़ा, जगसीराम कोली, खिलाड़ी लाल बैरवा, राम प्रताप, अभिनेष महर्षि सहित अन्य विधायक और फ्रंटलाइन वर्कर्स ने वैक्सीन की डोज ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *