Looking for opportunities in disaster, were caught, black marketing of Remedesvir injection, 7 arrested

आपदा में अवसर तलाश रहे थे धरे गए, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी पकड़ी, 7 गिरफ्तार

जयपुर

जयपुर पुलिस आयुक्तालय नें रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी रोकने के लिए ऑपरेशन चलाकर कालाबाजारी करते हुए 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। इसके लिए 48 जगहों पर बोगस ग्राहक भेजकर इंजेक्शन की कालाबाजारी को सुनिश्चित किया गया और कार्रवाई की गई। आरोपियों की ओर से इस इंजेक्शन की कीमत 15 से 16 हजार रुपए वसूले जा रहे थे।

आयुक्त आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि कोराना की घातक लहर के चलते रेमडेसिविर इंजेक्शन के कालाबाजारी की सूचना मिल रही थी। कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अजयपाल लांबा, पुलिस उपायुक्त अपराध दिगंत आनंद, पुलिस उपायुक्त संगठित अपराध सुलेश चौधरी, सहायक पुलिस आयुक्त चिरंजीलाल मीणा के नेतृत्व में सीएसटी आयुक्तालय की टीम का गठन किया गया।

टीम की ओर से शहर में 48 स्थनों पर बोगस ग्राहक भेजकर ऐसे लोगों को चिन्हित किया गया। इसके बाद टीम ने मुरलीपुरा में समर्थ मेडिकल स्टोर के जरिए 2 इंजेक्शन मंगवाए गए। इंजेक्शन मिलने पर मेडिकल स्टोर के खिलाफ कार्रवाई करते हुए जयप्रकाश वर्मा, दलवीर सिंह, विकास मित्तल, बसंत कुमार जांगिड़, विक्रम गुर्जर और शंकर माली को गिरफ्तार किया गया और उनके कब्जे से 4 रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किए गए। मुरलीपुरा थाना पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर औषधि नियंत्रण अधिकारी को मामले की सूचना दी। औषधि नियंत्रक द्वारा पता लगाया जा रहा है कि यह इंजेक्शन असली है या नकली।

इस तरह पकड़े गए आरोपी
पूछताछ में समर्थ मेडिकल स्टोर के मालिक जयप्रकाश वर्मा ने प्रति इंजेक्शन 15 हजार रुपए दर तय होने के बाद दलवीर सिंह से दो इंजेक्शन लाकर दिए। दलवीर ने यह इंजेक्शन विकास मित्तल से लाना बताया। विकास मित्तल को गिरफ्तार कर जब उससे पूछताछ की गई तो सामने आया कि वह यह इंजेक्शन बसंत जांगिड़ से लेकर आया था। बसंत से पूछताछ में सामने आया कि वह यह इंजेक्शन विक्रम गुर्जर और शंकर माली से लाया था।

गुड़गांव से लाए थे इंजेक्शन
आरोपियों से पूछताछ में सामने आया कि विक्रम गुर्जर व शंकर माली गुड़गांव से 725 इंजेक्शन खरीद कर लाए थे। इन इंजेक्शनों को दलालों के मार्फत ऊंची कीमतों में बेच रहे थे। इन्होंने स्वीकार किया है कि वह इन इंजेक्शनों को 15 हजार रुपए में बेच रहे थे, जबकि इनके पास खरीद व बेचान के लिए कोई लाइसेंस नहीं था।

फिल्म कॉलोनी से भी एक गिरफ्तार
उधर कोतवाली थाना पुलिस ने इंजेक्शन की कालाबाजारी पर कार्रवाई करते हुए रामावतार यादव को गिरफ्तार किया है। रामावतार को टी-32, दक्ष डिस्ट्रीब्यूटर, मयूर टावर, तृतीय फ्लोर, फिल्म कॉलोनी से गिरफ्तार किया गया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *