Purchase of 2 lakh 92 thousand 925 metric tons of wheat at minimum support price, 27 thousand 779 farmers benefited

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 2 लाख 92 हजार 925 मैट्रिक टन गेहूं की हुई खरीद, 27 हजार 779 किसानों को किया लाभान्वित

जयपुर कृषि

राजस्थान में रबी विपणन वर्ष 2021- 22 में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद क्रय केंद्रों पर सुचारू रूप से कर किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है। अभी तक खाद्य विभाग द्वारा महज 19 दिनों में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 2 लाख 92 हजार 925 मैट्रिक टन गेहूं की खरीद कर 27 हजार 779 किसानों को लाभान्वित किया है।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव नवीन जैन ने बताया कि प्रदेश में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद के लिए 386 क्रय केंद्र स्थापित किए गए हैं। समर्थन मूल्य पर भारतीय खाद्य निगम ने 2 लाख 11 हजार 496, तिलम संघ ने 27 हजार 510, राजफेड ने 34 हजार 924 एवं नैफेड ने 18 हजार 993 मैट्रिक टन गेहूं की खरीद अभी तक की है। अभी तक मंडियों में 3 लाख 76 हजार 028 मैट्रिक टन गेहूं की आवक हुई है। मुख्य रूप से कोटा एवं बीकानेर संभाग में गेहूं की खरीद कार्य जारी है।

गेहूं क्रय केंद्रों पर कोरोना गाइडलाइन की पालना के निर्देश

जैन ने बताया कि कोविड 19 वायरस के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए गेहूं क्रय केंद्रों पर कोरोना गाइडलाइन की शत-प्रतिशत पालना की जाएगी। इस संबंध में विभाग द्वारा क्रय केंद्रों पर मास्क पहनने, सामाजिक दूरी, बार-बार सैनिटाइजर करना एवं थर्मल स्क्रीनिंग आदि के बारे में दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। किसानों के मंडी परिसर से बाहर आवागमन माल सत्यापन एवं जाते समय बिक्री की रसीद के सत्यापन के बारे में भी दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं।

उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार द्वारा प्रदेश में रबी विपणन वर्ष 2021 -22 के तहत न्यूनतम समर्थन मूल्य 1 हजार 975 प्रति क्विंटल के हिसाब से 22 लाख मैट्रिक टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *