Now online registration of sonography machines will be done in PCPNDT in Rajasthan

राजस्थान (Rajasthan) में अब पीसीपीएनडीटी (PCPNDT) में सोनोग्राफी मशीनों (sonography machines) का हो सकेगा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन (online registration)

जयपुर

चिकित्सा मंत्री ने किया इम्पैक्ट पोर्टल का शुभारंभ

जयपुर। चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने शनिवार को सोनोग्राफी मशीनों (sonography machines) की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन (online registration) प्रक्रिया का वर्चुअल शुभारंभ किया। ‘इम्पेक्ट’ पोर्टल से सोनोग्राफी मशीनों के निर्माताओं, आयातकों, वितरकों, डीलर्स आदि के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया जा सकेगा।

डॉ. शर्मा ने कहा कि वर्तमान में राज्य के पीसीपीएनडीटी (PCPNDT) प्रकोष्ठ में सोनोग्राफी मशीनों के निर्माताओं, आयातकों, वितरकों, डीलर्स आदि के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया अब तक ऑफलाइन थी, लेकिन प्रक्रिया के ऑनलाइन होने से आवेदक फर्म द्वारा संबंधित दस्तावेज एवं निर्धारित रजिस्ट्रेशन फीस ऑनलाइन जमा की जा सकेगी व अनावश्यक कार्यालय नहीं आना पड़ेगा।

शर्मा ने बताया कि संबंधित आवेदन पत्र का स्टेटस ऑनलाइन ट्रैक कर सकेंगे एवं उन्हें एसएमएस द्वारा भी सूचित किया जा सकेगा। रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के लिए यूजर मैन्युअल पीसीपीएनडीटी के इम्पैक्ट सॉफ्टवेयर पर उपलब्ध कराया गया है। गौरतलब है कि राज्य में वर्तमान में इस श्रेणी में आने वाली 63 फर्म पंजीकृत हैं, जिनमें 11 आयातक, 13 निर्माता, 28 डीलर, 5 वितरक आदि शामिल हैं। पूर्व से पंजीकृत फर्मों को यूजर आईडी एवं पासवर्ड उपलब्ध कराए गए हैं।

इस वर्ष राज्य के कुल 2150 सोनोग्राफी केंद्रों के 1472 निरीक्षण किए जा चुके हैं। पीसीपीएनडीटी अधिनियम लागू होने के बाद से अब तक राज्य में कुल 159 डिकॉय कार्रवाई की जा चुकी है। वर्ष 2020-21 में कोरोना काल में गर्भवती महिला के संभावित संक्रमण के दृष्टिगत एवं गर्भस्थ शिशु के स्वास्थ्य के जोखिम को ध्यान में रखते हुए केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी गाइडलाइन द्वारा जारी दिशा निर्देर्शों एवं लॉकडाउन के कारण अधिक संख्या में डिकोय ऑपरेशन संभव नहीं हो पाए हैं। वर्ष 2021 में 4 डिकोय कार्रवाई की जा कर कुल 8 मुल्जिमों को गिरफ्तार किया जा चुका है और 2 सोनोग्राफी केंद्र को सीज किया गया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *