जयपुर

अब होगा शहरी सरकार में घमासान, ग्रेटर महापौर ने 7 अप्रेल को बुलाई साधारण सभा की बैठक

जयपुर। राजस्थाना विधानसभा का बजट सत्र समाप्त होने वाला है। इस बार विधानसभा सत्र काफी हंगामेदार रहा, लेकिन अब शहरी सरकार की साधारण सभा की बैठक भी खासी हंगामेदार रहने के अनुमान लगाए जा रहे हैं। जयपुर नगर निगम ग्रेटर की महापौर सौम्या गुर्जर ने 7 अप्रेल को साधारण सभा की बैठक बुलाई है। कहा जा रहा है कि लंबे अंतराल पर हो रही साधारण सभा बैठक में भाजपा पार्षद निगम आयुक्त व अन्य अधिकारियों को विभिन्न मुद्दों पर घेरेंगे।

निगम के भाजपा पार्षदों ने महापौर सौम्या गुर्जर को एक ज्ञापन सौंपा था, जिसमें विभिन्न प्रस्तावों को लेकर कार्यकारिणी समिति की बैठक बुलाने की मांग की थी। इस मांग के बाद महापौर ने आयुक्त यज्ञमित्र सिंह देव को निर्देश दिए कि कार्यकारिणी समिति की बैठक काफी समय से नहीं हुई है, अनेक महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा नहीं होने से जरूरी कार्य अटके हुए हैं। इसलिए कार्यकारिणी समिति की बैठक की तिथि तय की जाए, जिससे प्रस्तावों पर चर्चा हो सके, लेकिन विधानसभा चलने के कारण कांग्रेस के दो विधायकों ने बैठक के लिए सहमति नहीं दी और बैठक को टालना पड़ गया था।

ग्रेटर में भाजपा बोर्ड बनने के साथ ही यहां घमासान शुरू हो गया था, क्योंकि सरकार कांग्रेस की है। नया बोर्ड बनते ही सरकार ने यहां यज्ञमित्र सिंह आयुक्त लगाया था और तभी से महापौर और आयुक्त के बीच तनातनी जग-जाहिर है। इनमें बीवीजी कंपनी का मुद्दा सबसे प्रमुख है। इसी विवाद के चलते महापौर को लंबे समय तक अपनी कुर्सी से हटना पड़ा। अब वह वापस आई हैं, तो पुरानी दुश्मनियां निकाली ही जाएंगी। उधर भाजपा पार्षद भी निगम प्रशासन से खासा खफा है। ऐसे में विवादित विषयों पर हंगामा तय माना जा रहा है और पार्षदों के लिए अधिकारियों व आयुक्त की खिंचाई करने का यह सबसे अच्छा मौका होगा। बैठक का सबसे पहला प्रस्ताव ही सफाई का है, जिससे बैठक की शुरूआत ही घमासान से होगी।

Related posts

ब्लैक लिस्ट करने के बजाए अधिकारी दे रहे काम में सुधार के निर्देश

admin

भीषण गर्मी और कोविड के बाद आर्थिक गतिविधियों में वृद्धि से राजस्थान में बिजली की खपत में वृद्धि और आपूर्ति बाधित

admin

राजस्थान सरकार (Rajasthan Govt.) ने आमागढ़ (Aama Garh) पर पूजा-अर्चना (Worship) की अनुमति दी, फोर्ट (Fort) का ताला खोला

admin