स्वास्थ्य

मूंगफली को काटकर बन रहा था पिस्ता, भाव 1200 रुपए प्रति किलो

500 किलो बादाम और 30 किलो पिस्ता सीज

जयपुर। अगर आप बाजार से ड्राइफ्रूट्स वाली मिठाई खरीद रहें हैं तो सावधान हो जाइए, क्योंकि यह मिठाई आपके स्वास्थ्य व जेब को नुकसान पहुंचा सकती है। महंगे ड्राइफ्रूट्स के नाम पर बाजार में घटिया और नकली ड्रायफ्रूट्स बिक रहा है और वह भी महंगे दाम पर।

अतिरिक्त जिला कलक्टर चतुर्थ एवं अभियान के प्रभारी अशोक कुमार ने बताया कि त्योहारी सीजन में मिलावटखोरों के खिलाफ जयपुर जिला प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे ‘शुद्ध के लिए युद्ध अभियान’ के दसवें दिन एक बड़ी कार्रवाई करते हुए खाद्य निरीक्षकों की टीमों ने दीनानाथ जी की गली स्थित मैसर्स जसोरिया ट्रेडिंग कंपनी से दूषित 500 किलोग्राम बादाम जब्त किए। इसी फर्म पर 30 किलोग्राम नकली पिस्ता सीज किया गया, जिसे मूंगफली की कटिंग में हरा रंग मिलाकर 1200 प्रति किलोग्राम की दर से बेचा जा रहा था।

जिला कलक्टर अन्तर सिंह नेहरा ने खाद्य सामग्री की शुद्धता सुनिश्चित करने के लिए विशेष जांच दलों का गठन किया है। साथ ही जिला स्तरीय प्रबन्ध समिति का भी गठन किया गया है। यह समिति जांच दलों द्वारा की गई कार्रवाई, दर्ज एफआईआर सहित इसके सभी पक्षों की समीक्षा करेगी। पिछले दस दिन से जयपुर जिले के विभिन्न उपखण्डों में इन टीमों द्वारा मिलावटखोरों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

इस दौरान अन्य टीमों ने शहर में गांधीनगर मोड, वीकेआई इंडस्ट्रियल एरिया, दीनानाथजी की गली, मालवीय नगर सत्कार शॉपिंग सेंटर, बालाजी मोड, जगतपुरा, सांगानेर, वाटिका रोड आदि स्थानों पर सैम्पलिंग की कार्रवाई की गई और मिठाई व खाद्य सामग्री की दुकानों से गुलाबजामुन, मावा, पनीर, मसाले, काजूकतली, धनिया, मिर्च, हल्दी पाउडर, मूंगथाल, बर्फी, दूध आदि के नमूने लिए गए।

Related posts

राजस्थान के चिकित्सा मॉडल को अपनाए केंद्र सरकार: सीएम अशोक गहलोत

Clearnews

राजधानी में फिर शुरू होगी रात्रिकालीन सफाई

admin

Rajasthan: लू एवं गर्मी जनित बीमारियों से बचाव के लिए हर जिले का बनेगा एक्शन प्लान

Clearnews