Rajasthan Assembly By-Election-2121: Election Department and Local Administration did all preparations for safe counting of votes

राज. विधानसभा उपचुनाव-2021: निर्वाचन विभाग और स्थानीय प्रशासन ने की सुरक्षित मतगणना की सभी तैयारियां

जयपुर

प्रदेश में हुए तीन विधानसभा क्षत्रों के उपचुनाव के लिए रविवार को जिला मुख्यालयों पर कोविड संबंधी सभी दिशा-निर्देशों की पालना के साथ मतगणना कराई जाएगी। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियोजित सभी सामान्य पर्यवेक्षकों ने पहुंच कर मतणगणना स्थलों का दौरा कर लिया है। पर्यवेक्षकों के साथ आयोग ने रिजर्व पर्यवेक्षक भी भेजे हैं।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि सभी जिलों में स्थानीय प्रशासन, निर्वाचन विभाग व भारत निर्वाचन आयोग से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार सभी तैयारियां कर ली गई हैं। मतगणना स्थल पर उन्हीं लोगों को अनुमति मिलेगी, जिनके पास डबल वैक्सीन प्रमाण पत्र होगा या उनके पास आरटीपीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट होगी। मतगणना के दौरान भी दो मतगणना एजेन्टों के मध्य एक मतगणना एजेन्ट पीपीई किट में बिठाने की व्यवस्था की गई है, ताकि किसी भी हाल में संक्रमण का प्रसार ना हो सके। जीत के बाद उम्मीदवार विजयी जुलूस नहीं निकाल सकेंगे।

मतगणना हॉल में नियुक्त किए कर्मचारी या अधिकारी जैसे मतगणना पर्यवेक्षक, मतगणना सहायक, माइक्रो पर्यवेक्षक तथा उम्मीदवार चुनाव एजेन्ट, मतगणना एजेन्ट एवं इनके साथ-साथ रिटर्निंग अधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी एवं उनकी सहायता के लिए नियुक्त सभी कर्मचारी मास्क, फेस शील्ड एवं ग्लव्ज पहन कर रहेंगे।


कोविड के चलते करीब 40 प्रतिशत मतदान केंद्रों की संख्या बढ़ाने, सभी ईवीएम मशीनों के मतदान केंद्रों पर लाने से पहले उन्हें सेनेटाइज करने, मतगणना के बाद 5-5 वीवीपैट मशीनों से प्राप्त पर्चियों की रैंडमली गणना करने की वजह से मतगणना में अतिरिक्त समय लग सकता है। उन्होंने कहा कि सुजानगढ़ में 30, सहाड़ा में 28 और राजसमंद में 25 राउंड में मतगणना करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि पूर्व में दोपहर तक मतगणना के नतीजे आ जाते थे, लेकिन इन सब कारणों के साथ कोविड के दिशा-निर्देशों के चलते अब देर शाम तक नतीजे आने की संभावना रहेगी।

प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनर, सेनेटाइजर, वेंटीलेटर, ऑक्सीजन बैड की रहेगी व्यवस्था
मतगणना स्थल के मुख्य प्रवेश द्वार पर अधिक संख्या में व्यक्ति एकत्रित नहीं हों इसलिये मुख्य द्वार पर 2-3 जगह डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर लगाये जाएंगे। मतगणना स्थल के प्रत्येक प्रवेश द्वार पर थर्मल स्केनिंग और सेनेटाइजर उपलब्ध रहेगा। मतगणना स्थल में प्रवेश करने वाले सभी वाहनों का भी सैनिटाइजेशन करवाया जाएगा। मतगणना स्थल पर 2 वेंटीलेटर, ऑक्सीजन बैड तथा एम्बुलेंस की भी व्यवस्था की जाएगी ताकि आवश्यकता होने पर उनका तत्काल प्रयोग किया जा सके।

मतगणना स्थल पर मुख्य भवन में क्वारंटीन सेन्टर स्थापित किया जायेगा और इन केन्द्रों पर चिकित्सा विभाग के कार्मिकों की नियुक्ति की जायेगी। मतगणना कक्ष में मतगणना दल एवं काउन्टिंग एजेन्ट्स को विभाजित करने वाली जाली पर पारदर्शी पॉलिथीन शीट लगाई जाएगी। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने संबंधित जिला निर्वाचन अधिकारियों ने मतगणना के लिए उन्हीं कार्मिकों, अधिकारियों को नियोजित किया है, जिनको टीके की दोनों डोज लगाई जा चुकी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *