Rajasthan Chief Minister Ashok Gehlot gave instructions to strictly follow the Corona Guide Line, said that the rise in corona cases is worrying and intimidating

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना गाइड लाइन की सख्ती से पालना के निर्देश दिए, कहा संक्रमण में तेजी चिंताजनक एवं डराने वाली

जयपुर

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राजस्थान मेें एक दिन में 2 हजार 429 कोरोना पॉजिटिव मामलों का आना तथा पूरे देश में इस आंकड़े का एक लाख को पार कर जाना बेहद चिंताजनक है। प्रदेश में एक ही दिन में संक्रमित रोगियों की संख्या में 40 प्रतिशत की बढ़ोतरी के आंकड़े डरावने हैं। उन्होंने चेताया कि कोरोना की दूसरी लहर को नियंत्रित करने के लिए राज्य सरकार और अधिक कड़े कदम उठा सकती है और सभी लोगों को इसमें सहयोग करना पड़ेगा।

गहलोत सोमवार, 5 अप्रेल को देर रात मुख्यमंत्री निवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कोविड-19 के संक्रमण, नियंत्रण के लिए रणनीति बनाने तथा वैक्सीनेशन की स्थिति पर वरिष्ठ चिकित्सा विशेषज्ञों, संबंधित विभागों के उच्च अधिकारियों तथा जिला स्तर के अधिकारियों के साथ लगभग ढाई घंटे तक विस्तृत चर्चा कर रहे थे। इस बैठक को फेसबुक, यूट्यूब सहित विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से लाइव प्रसारित किया गया।

मुख्यमंत्री ने संभागीय आयुक्त, पुलिस कमिश्नर, जिला कलक्टर, पुलिस अधीक्षक, सीएमएचओ, मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल, जिला अस्पतालों के पीएमओ एवं अन्य अधिकारियों से संवाद किया। इस लाइव प्रसारण से 4 लाख से अधिक लोग जुड़े तथा करीब 30 हजार लोगों ने प्रतिक्रिया दी। उन्होंने आमजन से कोरोना संक्रमण की स्थिति के संदर्भ में हैल्पलाइन 181 तथा 0141-2922272 पर सुझाव एवं प्रतिक्रियाएं आमंत्रित की।

गहलोत ने प्रदेश में सोमवार को एक ही दिन में 5.44 लाख लोगों को टीका लगाए जाने पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि यह बड़ी उपलब्धि है क्योंकि एक दिन में वैक्सीनेशन की यह देश के सभी राज्यों में सबसे बड़ी संख्या है। टीकाकरण अभियान में गति लाकर हम कोरोना के प्रसार को नियंत्रित कर पाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि अधिक से अधिक संख्या में लोगों को टीका लगाकर प्रदेश को कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की भयावहता से बचाया जाए। उन्होंने बैठक में मौजूद सभी अधिकारियों, अन्य कार्मिकों तथा सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर लाइव प्रसारण देख रहे आमजन विशेषकर युवाओं से अपील की कि वे स्वयं और अपने आस-पास मौजूद 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोविड वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करें।

गहलोत ने प्रशासन एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे कोरोना गाइड लाइन की पालना कराने के लिए पूरी सख्ती बरतें। सार्वजनिक जगहों पर मास्क पहनने तथा उचित दूरी के नियमों की अवहेलना करने पर जुर्माने के साथ-साथ प्रतिष्ठानों को 72 घण्टे तक सीज करने जैसे कदम उठाने में कोई कोताही नहीं बरती जाए।

मुख्यमंत्री ने राजस्थान के सभी निवासियों को स्वास्थ्य बीमा कवरेज का लाभ देने के लिए शुरू की गई मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का अधिक से अधिक प्रचार कर लोगों को इससे जोड़ने की अपील की। उन्होंने अधिकारियों तथा आमजन से कहा कि वे गांवों एवं शहरों में चल रहे अभियान के दौरान अधिकाधिक परिवारों का मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कराएं। पूरे प्रदेश में 1 मई मजदूर दिवस के दिन से लागू होने वाली योजना में 5 लाख रूपए तक के निशुल्क कैशलेस उपचार की सुविधा मिलेगी।


	

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *