Rajasthan mai third wave ke liye child hospitals ka kiya ja raha reinforcement, oxygen ke mamle mai atma nirbhar banne ke kiye ja rahe prayas

राजस्थान (Rajasthan) में तीसरी लहर (third wave) के लिए शिशु अस्पतालों (child hospitals)का किया जा रहा सुदृढ़ीकरण, ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर बनने के किए जा रहे प्रयास

जयपुर

राजस्थान (Rajasthan) विधानसभा अध्यक्ष और नाथद्वारा विधायक डॉ. सीपी जोशी ने कहा कि राज्य सरकार के बेहतरीन प्रबंधन से प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में धीरे-धीरे कमी आ रही है। कोरोना की तीसरी लहर (third wave) से मुकाबला करने के लिए सरकार और विभाग तैयारियों में जुटे हुए हैं।

डॉ. जोशी बुधवार को राजसमंद जिले में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, नेड़च के नवनिर्मित भवन के वर्चुअल लोकार्पण ( virtual launch) कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में प्रदेश सहित राजसंमद जिले में विभाग द्वारा बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई, जिससे कोरोना संक्रमितों को उपचार के दौरान अधिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा। इस दौरान राज्य सरकार और हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड के सहयोग से तैयार 325-330 बैडेड डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर, (दरीबा) का प्रस्तुतिकरण भी दिखाया गया।

मुख्य अतिथि चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि सितंबर माह में संभावित कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए प्रदेश के सभी नीकू, पीकू, एसएनसीयू तथा मातृ शिशु अस्पतालों ( mother and child hospitals) के आधारभूत ढांचे को सुदृढ़ किया जा रहा है। वहीं लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट या ऑक्सीजन उत्पादन के मामले में भी आत्मनिर्भर बनने के प्रयास किए जा रहे हैं।

शर्मा ने बताया कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर के दौरान आमजन को अपने आसपास के क्षेत्रों या स्थानीय स्तर पर ही बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सभी 350 से ज्यादा सीएचसीज को सुदृढ़ बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इन सीएचसीज को ए, बी और सी श्रेणी में रखते हुए इनमें आईसीयू बैड, सेंट्रलाइज ऑक्सीजन पाइप, ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर, कोरोना के उपचार में काम आने वाली जरूरी दवाओं की उपलब्धता भी सुनिश्चित करवाई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *