अयोध्याधर्म

22 जनवरी 2024 को पीएम मोदी के हाथों होगा भव्य राम मंदिर का उद्घाटन, विश्व भर में मनेगा दीपोत्सव

अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर के उद्घाटन की तारीख का ऐलान श्रीराम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास ने कर दिया है। महंत ने कहा ” 500 वर्षों का इंतजार खत्म होने के बाद अब शुभ घड़ी नजदीक आ गई है। हर किसी को लंबे समय से अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का इंतजार था और अब यह इंतजार जल्द ही खत्म होने वाला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों 22 जनवरी, 2024 को हजारों साधु-संतों की मौजूदगी में राम मंदिर का ऐतिहासिक उद्घाटन होगा।”
वहीँ विश्व हिंदू परिषद ने रामलल्ला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह को ऐतिहासिक बनाने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। विहिप के शीर्ष प्रदाधिकारियों की रविवार को अयोध्या में हुई बैठक के दौरान प्राण प्रतिष्ठा समारोह की तैयारियों पर चर्चा की गई और महोत्सव को ऐतिहासिक बनाने पर मंथन हुआ। जिस दिन रामलाल अपने नए मंदिर में विराजेंगे, उस दिन पूरी दुनिया में दीपोत्सव मनाने की तैयारी है।
मंदिर उद्घाटन कार्यक्रम होगा ऐतिहासिक
दिल्ली जाते समय अलीगढ़ में अपने प्रवास के दौरान महंत नृत्यगोपाल दास ने कहा कि देश के सभी लोगों को हजारों साल से अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण का इंतजार था। मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि राम मंदिर के निर्माण के लिए हमें लंबा संघर्ष करना पड़ा है मगर हम सभी ने काफी धैर्य से काम लिया है। आखिरकार वह इंतजार खत्म होने का समय आ गया है और 22 जनवरी 2024 को हजारों साधु- संतों की मौजूदगी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस भव्य राम मंदिर का उद्घाटन करेंगे। राम मंदिर के उद्घाटन का कार्यक्रम अपने आप में ऐतिहासिक होगा और इससे हम सभी काफी प्रसन्न हैं।
हालांकि स्वास्थ्य ठीक न होने के कारण महंत नृत्यगोपाल दास ने मीडिया के साथ संक्षिप्त बातचीत की। कई सवालों का उन्होंने जवाब भी नहीं दिया। महंत नृत्यगोपाल दास के आने की खबर सुनकर काफी संख्या में श्रद्धालु और भाजपा के पदाधिकारी उनसे मिलने के लिए पहुंचे।
श्रीराम प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम संपूर्ण विश्व में आनंदोत्सव के रूप में मनाएंगे 
इस बीच रामलाल के प्राण प्रतिष्ठा समारोह को भव्य बनाने की जोरदार तैयारियां की जा रही हैं। अयोध्या में रविवार को विहिप के शीर्ष पदाधिकारियों की बैठक के दौरान इस मुद्दे पर मंथन किया गया। विहिप के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने बताया कि श्रीराम प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को संपूर्ण विश्व में आनंदोत्सव के रूप में मनाया जाएगा।जिस दिन रामलला नए मंदिर में विराजेंगे, उस दिन पूरी दुनिया में दीपोत्सव मनाने की तैयारी है। देश भर के मठ-मंदिरों और घर-घर में अनुष्ठान का कार्यक्रम भी होगा। इस महोत्सव का पूरी दुनिया में प्रसारण भी किया जाएगा।
देश के सभी मठ-मंदिरों में होगा कार्यक्रम
विहिप नेता ने बताया कि देशभर इस कार्यक्रम के लिए देशभर से एक लाख से अधिक साधु-संतों को अयोध्या आमंत्रित किया जाएगा। इन सभी साधु-संतों के आवास और भोजन की व्यवस्था विहिप की ओर से की जाएगी। इस मौके पर अयोध्या आने वाले श्रद्धालुओं की ओर से विहिप की ओर से मुफ्त रसोई की व्यवस्था करने की भी तैयारी है। देश भर के मठ-मंदिरों में इस मौके पर पूजा, हवन, आरती और दीप जलाने का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।
बजरंग दल द्वारा निकली जाएँगी शौर्य यात्राएं
भगवान श्रीराम के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के पहले बजरंग दल की ओर से 30 सितंबर से 15 अक्टूबर तक शौर्य यात्राएं निकाली जाएंगी। इन शौर्य यात्राओं के जरिए देश भर के पांच लाख गांवों को जोड़ने की तैयारी है। इन यात्राओं के दौरान विभिन्न स्थान पर सभाओं का आयोजन भी किया जाएगा। दिवाली  पखवाड़े के दौरान देश के साधु-संत भी पदयात्रा निकलेंगे और विभिन्न शहरों में बैठक करेंगे।गौरतलब है कि 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले इन तैयारियों को सियासी नजरिए से भी देखा जा रहा है। माना जा रहा है कि इस कार्यक्रम के जरिए हिंदू मतों की गोलबंदी का प्रयास किया जाएगा जिसका भाजपा को बड़ा सियासी फायदा मिल सकता है।

Related posts

गुरु पूर्णिमा पर मंत्रों से गूंज उठा अमेरिका का टेक्सास…10 हजार लोगों ने एकसाथ पढ़े गीता के 700 श्लोक, देखें Video

Clearnews

ज्ञानवापी विवाद: ट्रेजरी से तहखाने में लाई गईं एएसआई सर्वे में मिली 8 खंडित मूर्तियां

Clearnews

दिसंबर से दर्शन देंगे हमारे आराध्य गोविंद देवजी

admin