marij ke parijano ki uppasthiti mai hi lagega remdesivir injection

निजी चिकित्सालयों को रेमडेसिविर एवं टोसिलीजुमेब औषधियों के वितरण की अनुशंषा करने वाली 3 सदस्यीय समिति का पुनर्गठन, पर्यवेक्षण के लिए 1 अन्य समिति गठित

जयपुर स्वास्थ्य

जिला कलक्टर अन्तर सिंह नेहरा ने निजी चिकित्सालयों को कोविड 19 के उपचार के लिए रेमडिसिविर एवं टोसिलिजुमेब इंजेक्शन उपलब्ध करवाने के लिए तीन सदस्यीय नवीन समिति का गठन किया है। समिति की अभिशंसा पर रेमडेसिविर एवं टोसिलिजुमेब इंजेक्शन उपलब्ध कराए जाएंगे। इंजेक्शन के वितरण एवं पर्यवेक्षण के लिए भी एक तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया है।

सोमवार को जारी आदेशानुसार यह समिति कोविड 19 के उपचार के लिए रेमडिसिविर एवं टोसिलीजुमेब औषधि को निजी चिकित्सालयों की न्यायोचित आवश्यकता, उपयोगिता एवं उपलब्धता के आधार पर उपलब्ध करवाने के लिए अनुशंसा करेगी। पुनर्गठित तीन सदस्यी समिति में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के उप निदेशक डॉ.यदुराज सिंह एवं सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के मेडिसिन विभाग के वरिष्ठ प्रोफेसर डॉ.रमन शर्मा एवं प्रोफेसर डॉ.अभिषेक अग्रवाल शामिल हैंं।

यह समिति प्रतिदिन राजस्थान चिकित्सा सेवा निगम (आरएमएससीएल) द्वारा उपलब्ध कराए गए इन इंजेक्शन के स्टॉक व निजी चिकित्सालयों द्वारा पे्रेषित मांग के अनुसार आपस में चर्चा कर न्यायोचित आवश्यकता, उपयोगिता एंव उपलब्धता के आधार पर निर्णय लेगी एवं अनुशंसा करेगी। समिति की अनुशंषा के बाद ही जारी की जाने वाली औषधि (रेमडिसिविर एंव टोसिलीजुमेब इंजेक्शन) संबंधित निजी चिकित्सा संस्थान को औषधि भण्डार गृह से उपलब्धता के आधार पर प्रदान की जाएगी।

आदेश मेें इस पुनगर्ठित समिति की अभिशंषा पर रेमडिसिविर एवं टोसिलिजुमेब इंजेक्शन के वितरण एवं पर्यवेक्षण हेतु जिला प्रशासन की ओर से एक और समिति का गठन किया गया है। इस वितरण एवं पर्यवेक्षण समिति में राजस्थान ब्रेवरीज कार्पोरेशन के कार्यकारी निदेशक सुखवीर सैनी, राजस्थान सीड कार्पोरेशन के प्रबन्ध निदेशक जसवंत सिंह एंव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के उप निदेशक डॉ.यदुराज सिंह को सदस्य बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *