जयपुरपर्यटन

RTDC की सौगातः अधिस्वीकृत पत्रकारों सहित विभिन्न वर्गों को आरटीडीसी होटलों में रुकने पर 50 फीसदी तक रियायतों के आदेश

राजस्थान पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष धर्मेंद्र राठौड़ ने अधिस्वीकृत पत्रकारों सहित विभिन्न वर्गों को बड़ी सौगात दी है। इन वर्गों को आरटीडीसी के होटल में ठहरने पर किराए में 50 प्रतिशत तक की छूट मिलेगी।
राजस्थान पर्यटन विकास निगम के कार्यकारी निदेशक मनीष फौजदार ने बताया कि निगम के अध्यक्ष धर्मेन्द्र राठौड़ ने विभिन्न श्रेणियों के व्यक्तियों को होटल किराए में छूट देने की घोषणा की थी। इस संबंध में निगम की 191वीं बोर्ड मीटिंग में छूट देने का निर्णय लिया गया था। अब भारत रत्न, पदम विभूषण, पदम भूषण, पदमश्री, परमवीर चक्र, महावीर चक्र, वीर चक्र, अशोक चक्र, कीर्ति चक्र, शौर्य चक्र, मौलाना अबुल कलाम आजाद ट्रॉफी, अर्जुन अवार्ड, द्रोणाचार्य अवार्ड, मेजर ध्यानचंद खेल रत्न अवार्ड, ध्यान चंद अवार्ड एवं राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार प्राप्त व्यक्ति, राजकीय कार्य पर समस्त राज्य सरकारों, पीएसयू, केन्द्र सरकार के अधिकारी, कर्मचारी, प्रतियोगिता परीक्षा के लिए आए विद्यार्थी एवं व्यक्ति, अधिस्वीकृत पत्रकार, सर्किट हाउस के लिए पात्र अधिकारी एक अप्रेल से 31 मार्च तक 50 फीसदी रियायत के लिए पात्र होंगे।

फौजदार ने बताया कि इसके साथ ही समस्त राज्य सरकारों, केन्द्र सरकार एवं पीएसयू के कार्मिकों को एक अप्रेल 15 जुलाई तक 50 प्रतिशत और 16 जुलाई से 31 मार्च तक 30 प्रतिशत रियायत देय होगी। दिव्यांगों को 30 प्रतिशत, महिला यात्रियों को 25 प्रतिशत, वरिष्ठ नागरिकों को 20 प्रतिशत छूट वर्ष पर्यत दी जाएगी। राजस्थान राज्य ललित कला अकादमी से जुड़े कलाकारों को प्रदर्शनी के लिए निःशुल्क स्थान उपलब्ध कराया जाएगा। इसी प्रकार बल्क बुकिंग कराने पर भी छूट दी जाएगी। 25 से 35 कमरें एक होटल में एक दिन बुक कराने पर एक अप्रेल से 30 सितम्बर तक 30 प्रतिशत तथा 1 अक्टूबर से 31 मार्च तक 20 प्रतिशत छूट दी जाएगी। 36 से अधिक कमरें बुक कराने पर एक अप्रेल से 30 सितम्बर तक 40 प्रतिशत तथा एक अक्टूबर से 31 मार्च तक 25 प्रतिशत छूट देय होगी।

Related posts

50 जिलों वाला राजस्थान अब कुछ ऐसा दिखेगा,19 नए जिलों का नोटिफिकेशन जारी

Clearnews

राजस्थान में समर्थन मूल्य पर मूंग, उड़द, सोयाबीन की 1 नवम्बर से एवं मूंगफली की 18 नवम्बर से खरीद

admin

Rajasthan: संचालक द्वारा शर्तों की पालना नहीं करने के कारण सामोद वीर हनुमान मंदिर में रोप-वे संचालन पर लगी रोक

Clearnews