If the infection is not controlled, the Rajasthan government will take strong steps, the Medical Minister appealed to the common man, 'Jaan hai to jahan hai, protect yourself at this time, so that the wedding ceremony and celebrations can be celebrated in the future'.

आरयूएचएस में चार गुना बैड किए जाएंगे हाइफ्लो आक्सीजन युक्त

स्वास्थ्य कोरोना जयपुर

100 बैड का अतिरिक्त कोविड सेंटर भी हो रहा तैयार

जयपुर। चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा है कि कोरोना पीडि़त मरीजों की जान बचाना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुसार आरयूएचएस अस्पताल में चार गुना शैय्याओं को हाइफ्लो ऑक्सीजन युक्त बनाया जा रहा है, ताकि गंभीर मरीजों को तुरंत ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जा सके।

शर्मा ने बताया कि कोरोना मरीजों के लिए आरयूएचएस में ही 100 बैड का अतिरिक्त कोविड केयर सेंटर भी बनाया जा रहा है। निम्स मेडिकल कॉलेज में 25 ऑक्सीजनयुक्त बैड और 75 कोविड केयर बैड विकसित किए जा रहे हैं। इसके लिए निजी अस्पतालों को भी अधिगृहित किया जा सकता है।

मैन पावर की नहीं रहेगी कमी

शर्मा ने कहा कि प्रदेश में हैल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने के साथ ही सरकार का पूरा ध्यान इस क्षेत्र में आ रही मैनपावर की कमी को भी दूर करने पर है। इसीलिए 6 हजार 310 कम्यूनिटी हैल्थ ऑफिसर्स की भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है।

इससे पूर्व भी 2500 कम्यूनिटी हैल्थ ऑफिसर्स की भर्ती की प्रक्रिया शुरू की गई थी, लेकिन कुछ खामियों के कारण इसे रोका गया था। इससे पहले 765 चिकित्सकों को नियुक्ति दी जा चुकी है। वहीं 2 हजार मेडिकल ऑफिसर्स की भर्ती प्रक्रिया पर कुछ शिकायतें आने पर जांच कराई और उस परीक्षा को रद्द कराकर दोबारा परीक्षा कराने के निर्देश जारी किए गए हैं। भर्ती प्रक्रिया पूरी पारदर्शिता के साथ की जा रही है, ताकि इसपर कोई सवालिया निशान नहीं लगे।

शर्मा ने बताया कि प्रदेश में 12 हजार 500 एएनएम और जीएनएम के अधिकतर पदों पर नियुक्तियां दी जा चुकी है। स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत बनाने के लिए सरकार की ओर से कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही है। रेडियोग्राफर्स हो या तकनीशियंस, सभी भर्तियों को प्राथमिकता के साथ धरातल पर लाया जा रहा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *