There was factionalism in Congress before Rahul Gandhi's visit, Pilot missing from Ajay Maken's Kishangarh tour

राहुल गांधी के दौरे से पहले कांग्रेस में नजर आई गुटबाजी, अजय माकन के किशनगढ़ दौरे से नदारद रहे पायलट

जयपुर

जयपुर। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार से राजस्थान के दो दिन के दौरे पर आ रहे हैं, लेकिन उससे पहले ही प्रदेश कांग्रेस में गुटबाजी उभरकर सामने आ गई है। राहुल गांधी के दौरे की तैयारियों को जांचने के लिए राजस्थान प्रभारी अजय माकन बुधवार को किशनगढ़ पहुंचे। इस दौरान अजमेर, टोंक, भीलवाड़ा और नागौर के सभी कांग्रेसी नेता उपस्थित रहे, लेकिन सचिन पायलट वहां नहीं पहुंचे, जबकि पूर्व में अजमेर उनका संसदीय क्षेत्र रह चुका है।

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि पायलट का किशनगढ़ से नदारद रहना चर्चा का विषय बना हुआ है और कहा जा रहा है कि इसकी रिपोर्ट दिल्ली तक गई है। माकन के दौरे में प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा, गोपाल बाहेती, रामलाल जाट समेत नागौर से भी कांग्रेसी नेता पहुंचे थे। इन सभी नेताओं ने माकन के किशनगढ़ दौरे की तस्वीरें सोश्यल मीडिया पर डाली गई है, जिसमें पायलट नजर नहीं आ रहे।

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट लगातार किसान आंदोलन के समर्थन में दौरे कर रहे हैं और किसानों की आवाज उठा रहे हैं, लेकिन जब पार्टी की ओर से किसानों के लिए कोई कार्यक्रम किया जा रहा है, तो उसकी तैयारियों से दूरी बनाना गलत संदेश दे रहा है। सूत्र कह रहे है कि पूरा कार्यक्रम एआईसीसी ने तैयार किया है और एआईसीसी के प्रोटोकाल के अनुसार मंच पर बैठने की व्यवस्था रहेगी। इन कुर्सियों में पायलट को जगह मिलती है या नहीं यह कल सामने आ जाएगा और यह भी पता चल जाएगा कि कांग्रेस पायलट को लेकर क्या सोच रही है।

राहुल शुक्रवार की हनुमानगढ के पीलीबंगा आएंगे। यहां कृषि मंडी में किसान महापंचायत को संबोधित करेंगे। दोपहर 1 बजे के आसपास वे गोलूवाला में रुकेंगे जहां कांग्रेस कार्यकर्ता उनका स्वागत करेंगे। फिर दोपहर 3 बजे श्रीगंगानगर के पदमपुर में किसानों की सभा को संबोधित करेंगे। यहां रवाना होकर श्रीगंगानगर पहुंचेंगे जहां रात्रि विश्राम करेंगे।

13 फरवरी की सुबह राहुल श्रीगंगानगर से प्लेन से रवाना होंगे और सुबह 10 बजे के करीब किशनगढ़ एयरपोर्ट पर उतरेंगे। यहां वे पास में ही लोक देवता वीर तेजाजी के बलिदान स्थल सुरसुरा मंदिर जाएंगे और वहां पूजा-अर्चना करेंगे। पूजा के बाद वहीं पर सभा को भी संबोधित करेंगे। इसके बाद रूपनगढ़ में ट्रैक्टर रैली में हिस्सा लेंगे और किसानों को संबोधित करेंगे। राहुल ट्रैक्टर रैली के बाद नागौर के परबतसर और मकराना में किसान सभाओं को संबोधित करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *