Tokyo olampik: naukaayan pratiyogita (sailing competition) mein raajasthaan ke arjun honge bhaarateey daavedaar, pradesh ke hee jaakhar kvaaliphaee karane ke baavajood nahin ja paenge tokyo

टोक्यो ओलंपिक(Tokyo Olympic) : नौकायन प्रतियोगिता (Sailing Competition) में राजस्थान के अर्जुन होंगे भारतीय दावेदार, प्रदेश के ही जाखर क्वालिफाई करने के बावजूद नहीं जा पाएंगे टोक्यो

खेल जयपुर
गुलाबी नगरी के शाहपुरा तहसील नया बास के अर्जुन लाल जाट और जाखर खान ने 23 जुलाई से जापान के टोक्यो शहर में आयोजित होने वाले ओलंपिक खेलों की नौकायन स्पर्धा के लिए क्वालिफाई कर लिया है। इन दोनों ने एशिया/ओसियाना कॉन्टिनेंटल क्वालिफाइंग रिगाट्टा टोक्यो में ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया। अर्जुन ने इस क्वालिफाइंग टूर्नामेंट में दूसरे स्थान पर रह कर लाइट वेट डबल स्कल्स में ओलंपिक टिकट हासिल किया।

 उल्लेखनीय है कि इस प्रतियोगिता में मेजबान जापान पहले और उज्बेकिस्तान तीसरे स्थान पर रहा। राजस्थान के जाखर ने इसी स्पर्धा में चौथा स्थान हासिल कर ओलंपिक के लिए क्वालिफाई तो कर लिया लेकिन भारत की महिला रोवर नाकाम रही। नियम के तहत महिला खिलाड़ी का भी क्वालिफाई आवश्यक होता है, नहीं तो टीम ओलंपिक में भाग नहीं ले सकती। इस टूर्नामेंट में टॉप 6 रोवर्स ने क्वालिफाई किया। जाखर क्वालिफाई करने के बावजूद महिला खिलाड़ी के अभाव में टोक्यो नहीं जा पाएंगे।
अर्जुन व अरविंद की जोड़ी खेलेगी
भारत की ओर से राजस्थान के अर्जुन लाल जाट और उत्तरप्रदेश के अरविंद सिंह की जोड़ी ओलंपिक में डबल स्कल्स स्पर्धा में पदक का दावा पेश करेगी। अर्जुन राजपूताना रायफल्स दिल्ली में नायब सूबेदार के पद पर तैनात है। उन्हें उम्मीद है कि वे ओलंपिक में भारत अच्छा प्रदर्शन करेगा। अरविंद के साथ उनकी जोड़ी अच्छी है और दोनों में तालमेल भी ठीक है।
ताखर दे रहे है ट्रेनिंग
एशियाई खेलों के पदक विजेता राजस्थान के बजरंग लाल ताखर भारतीय रोविंग टीम का कैंप ले रहे है। इस्माइल बेग टीम के चीफ कोच हैं और उनके साथ ताखर भी सहायक कोच के रूप में कोचिंग दे रहे है। ताखर ने बताया कि रोवर्स की तैयारी शानदार है। टीम का कैंप हैदराबाद में आयोजित किया जा रहा है।
नौकायन में यूरोप हावी
ओलंपिक में अमूमन यूरोप की टीमें हावी रही है। भारत पिछली बार फाइनल बी में पहुंचा था, इस बार फाइनल में ए में पहुंचने की उम्मीद है। ताखर ने कहा कि फाइनल में 6 टीमें खेलती हैं और उसमें टॉप टीम जीतती है। कैंप 24 अप्रैल से चल रहा है और 15 जुलाई को टीम टोक्यो के लिए रवाना होगी। 

शतरंजः विशेष और इनाया ने जीता अंडर-10 का खिताब
अजमेर के विशेष दाधीच और जोधपुर की इनाया बिड़ला ने अंडर-10 ऑनलाइन शतरंज चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया। विशेष ने साढ़े सात अंक बनाए। जयपुर के रुद्र दमन मेरतिया दूसरे स्थान पर रहे। जोधपुर के आगम सुराणा तीसरे, जयपुर के नाभ्य सिंह चौथे और अजमेर के मनन कुमार बुलचंदानी ने पांचवां स्थान हासिल किया।

Chess1
विशेष दाधीच, शतरंज खिलाड़ी

छह राउंड तक, रुद्र ने सभी छह अंक प्राप्त कर लिए थे और उसे ड्रॉ करने की जरूरत थी लेकिन सातवें व अंतिम चक्र में विशेष से हार का सामना करना पड़ा और दूसरे स्थान पर संतोष करना पड़ा। आगम ने कार्तिक पांडे को हराया, नाभ्य सिंह ने पार्श्व परमार को और मनन कुमार ने अनुस बंसल को पराजित किया।

बालिका वर्ग में इनाया चैंपियन

14 June Chess Player Inaya
इनाया बिड़ला, शतरंज खिलाड़ी


बालिका वर्ग में इनाया बिड़ला सातवें दौर तक नाबाद रहीं और चैंपियन बनीं। जयपुर की वाची अग्रवाल छह अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहीं। तीन से छह स्थान के बीच सभी खिलाड़ियों के पांच अंक थे लेकिन तकनीकी स्कोर के आधार पर जयपुर की जयस्विका अर्पित तीसरे, जयपुर की यति कोठारी चौथे, अजमेर की देविका शर्मा पांचवें और चित्तौड़गढ़ की हिमंद्री पालीवाल ने छठा स्थान हासिल किया।

आयोजकों के अनुसार प्रत्येक आयु वर्ग के विजेताओं को इनामी राशि उनके या उनके अभिभावकों के खाते में अंतरित कर दी जाएगी। इस प्रतियोगिता में प्रत्येक वर्ग में प्रथम दो स्थान प्राप्त खिलाडी 28 जून से चार जुलाई तक आयोजित होने वाली राष्ट्रीय अंडर 10 प्रतियोगिता में राजस्थान का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

खेल व युवा हित में राजस्थान के जिम शीघ्र खोले जाएं : मीणा
कांग्रेस की केंद्रीय कार्य समिति सदस्य (सीडब्लूसी मेंबर) और राजस्थान के पूर्व खेल मंत्री रघुवीर मीणा ने राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से आग्रह किया है कि प्रदेश में कोरोना काल में बंद किए गये जिमों को खेल व युवा हित में शीघ्र खोला जाये। राजस्थान बॉडी बिल्डिंग एसोसिएशन के संरक्षक मीणा ने बताया कि राज्य सरकार के बेहतर प्रबंधन से प्रदेश में कोरोना तेजी से घटा है और जन -जीवन सामान्य हो रहा है।

रघुवीर मीणा ने कहा कि इस स्थिति में सरकार जिमों के लिए एक व्यापक गाइडलाइन बनाकर उन्हें खोलने का निर्णय ले सकती है। उन्होंने कहा कि हजारों जिमों में रोजाना लाखों युवा नियमित रूप से वर्जिश करते हैं और इससे युवाओं में इम्युनिटी बढ़ती है। मीणा ने कहा कि उनका प्रदेश के खेल-जगत और खेल-प्रेमियों से सीधा संबंध रहा और उन्हें बहुत-से खिलाड़ियों ने कहा है कि जिम खोलने से कोरोना पर विजय पाने की संपूर्ण लड़ाई को बल ही मिलेगा।

उन्होंने कहा कि राजस्थान बॉडी -बिल्डिंग एसोसिएशन की इस मांग पर राज्य के अर्जुन अवार्डी, द्रोणाचार्य और महाराणा प्रताप अवार्डी खिलाड़ियों को भी सरकार से आग्रह करना चाहिए। मीणा ने खिलाड़ियों की भावनाओं के अनुरूप मुख्यमंत्री से यह आग्रह किया है।

———————————————————————————————————-

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *