Textile Export

विशेषज्ञों ने टेक्सटाइल एक्सपोर्ट को ट्रिपल करने के दिए टिप्स

कारोबार जयपुर

जयपुर। क्रेडिबिलिटी स्थापित करना, ट्रस्ट बिल्डिंग और अच्छी मार्केटिंग रणनीति के माध्यम से गुडविल का विस्तार करना, किसी सर्विस या प्रोडक्ट की बिक्री ट्रिपल करने की कुंजी है। किसी ब्रांड की छवि और प्रतिष्ठा का निर्माण व्यवसाय के विकास के लिए बेहद जरूरी है।

यह कहना था एग्जीबिशन कंन्सलटेंट एंड सेरो कॉरपोरेशन के फाउंडर, गगन कपूर का। वे वस्त्र-2020 के 7वें संस्करण के तहत गुरूवार शाम को ‘3& योर टेक्सटाइल एक्सपोर्ट’ विषय पर आयोजित वेबिनार में संबोधित कर रहे थे। ‘वस्त्र’ का आयोजन राजस्थान स्टेट इंडस्ट्रियल डवलपमेंट एंड इनवेस्टमेंट कारपोरेशन लिमिटेड (रीको) और फेडरेशन ऑफ इंडियन चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) द्वारा संयुक्त रूप से किया जा रहा है।

कपूर ने कहा कि मार्केटिंग किसी ब्रांड या प्रोडक्ट के वर्तमान और संभावित ग्राहकों को शिक्षित करती है। यह लोगों से जुडऩे में मदद करती है और नए ग्राहकों के साथ संबंधों को दीर्घकालिक बनाती है। प्रोफेशनल मार्केटिंग कैम्पेन यह दर्शाता है कि व्यवसाय प्रतिष्ठित है।

प्रभावी ढंग से लोगों के साथ जुडऩे के तरीके के बारे में सुझाव देते हुए, स्पीकर ने कहा कि किसी प्रोडक्ट को खरीद के बाद कस्टमर को ईमेल से फॉलो करना; सोशल मीडिया पर कनेक्ट और इंटरैक्ट करना, इंटरैक्टिव वीडियो, स्पेशल ऑफर्स और नई सर्विस या प्रोडक्ट्स के बारे में वेबसाइट पर जानकारी साझा करना, ग्राहक के साथ संबंध बनाने के कुछ तरीके हैं।

इससे पहले, एक्सपोर्ट ग्रोथ कोच संदीप कौशिक ने वैश्विक बाजारों को समझने और वास्तविक वैश्विक खरीदारों को खोजने पर अपने विचार साझा किए। उन्होंने सुझाव दिया कि एक्सपोट्र्स को सर्वप्रथम 10 टारगेट देशों को शॉर्टलिस्ट करना चाहिए। इसके बाद उन देशों द्वारा आयातित कपडे की प्रमुख श्रेणियों, उस देश के भीतर और बाहर प्रतिस्पर्धा, वास्तविक खरीदारों की सूची, आदि पर रिसर्च किया जाना चाहिए।

ऑस्ट्रेलिया इंडिया: इनसाइट्स इन्टू बिजनेस ऑपर्टूनिटीज पोस्ट कोविड ‘

ऑस्ट्रेलिया इंडिया: इनसाइट्स इन्टू बिजनेस ऑपर्टूनिटीज पोस्ट कोविड’- विषय पर भी वेबिनार का आयोजन हुआ। सेशन ने इस तथ्य पर प्रकाश डाला कि ऑस्ट्रेलिया में 98 प्रतिशत व्यवसाय छोटे और सूक्ष्म पैमाने पर हैं, इसलिए यहां रीटेल स्पेस मेंटेन करना मुश्किल है। कोविड-19 के कारण यहां रीटेल में कमी आई है और इस प्रकार वे इंडियन सप्लायर्स जो कि सीमित मात्रा में उत्पादन कर सकते हैं और छोटे व्यवसाय चला सकते हैं, वे सफल होंगे। इसके अलावा, कस्टमर सर्विस अच्छे भविष्य की कुंजी है क्योंकि यह लिंकेज बनाए रखने में सहायक है। यह भी बताया गया कि सस्टेनेबल, इको फ्रेंडली और नेचुरल फेब्रिक टेक्सटाइल इस समय की आवश्यकता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *