अहमदाबादक्रिकेट

मोहम्मद रिजवान के फिलिस्तीन को सपोर्ट पर पूछा सवाल तो मिमियाने लगे बाबर आजम

विश्व कप में श्रीलंका के खिलाफ जीत के बाद मोहम्मद रिजवान ने फिलिस्तीन को सपोर्ट किया था। अब जब इस पर बाबर आजम से प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवाल किया गया तो वह मिमियाने लगे। उन्होंने कहा कि अच्छा हो कि हम क्रिकेट पर बात करें।
भारत और पाकिस्तान के बीच विश्व कप 2023 का सबसे बड़ा मुकाबला खेला जाना है। इस मैच से पहले पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए आए तो उनसे मोहम्मद रिजवान के बाद फिलिस्तीन को सपोर्ट करने के बारे में पूछा गया इस पर एक बार तो उन्हें सांप सूंघ गया और बाद में मिमियाने लगे। मोहम्मद रिजवान ने श्रीलंका के खिलाफ जीत गाजा के ‘भाइयों और बहनों’ को समर्पित की थी।
सवाल से बचने को क्रिकेट का सहारा
बाबर से जब इस बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि बेहतर यही होगा कि हम क्रिकेट पर बात करें। आप हमारी बातचीत को दूसरी दिशा में ले जा रहे हैं।’ बाबर ने स्वीकार किया कि उनकी टीम को तेज गेंदबाज नसीम शाह की कमी खल रही है जो चोटिल होने के कारण टूर्नामेंट में नहीं खेल रहे हैं।
नसीम की कमी पर दिखे चिंतित
उन्होंने कहा, ‘हमें नसीम शाह की बहुत कमी खल रही है। जिस तरह से उसने एशिया कप में प्रदर्शन किया, जिस तरह से वह लगातार अपने खेल में सुधार कर रहा है तो एक टीम के रूप में और कप्तान के रूप में हमें उसकी बहुत कमी खल रही है। जहां तक शाहीन शाह अफरीदी की बात है तो हमें उस पर पूरा भरोसा है कि वह अच्छा प्रदर्शन करेगा।’
इतिहास पर ध्यान नहीं देता…
भारत में विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ अभी तक जो सात मैच खेले हैं उन्हें उसने जीत दर्ज की है। इस बारे में पूछे जाने पर बाबर ने कहा, ‘मैं अतीत की बातों पर ध्यान नहीं देता हूं। मैं केवल भविष्य पर गौर करता हूं। इस तरह के रिकॉर्ड तोड़ने के लिए होते हैं। यह इस पर निर्भर करता है कि आप किस तरह का प्रदर्शन करते हैं। मेरी टीम ने पहले दो मैच में अच्छा प्रदर्शन किया था और मुझे विश्वास है कि आगामी मैचों में भी वह अच्छा प्रदर्शन करेगी।’
कप्तानी के सवाल पर हुए असहज
पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम का मानना है कि विश्व कप में भारत के खिलाफ शनिवार को होने वाले बहु प्रतीक्षित मैच के परिणाम का उनकी कप्तानी पर कोई असर नहीं पड़ेगा। इस महत्वपूर्ण मैच से पहले दोनों टीम के कप्तानों पर दबाव है क्योंकि किसी भी टीम के प्रशंसक अपनी टीम को हारता हुआ नहीं देखना चाहते हैं। बाबर ने हालांकि जताया कि उन पर किसी तरह का दबाव नहीं है। यह अलग बात है कि इस मैच के नतीजे का उनकी कप्तानी पर पड़ने वाले प्रभाव से संबंधित सवाल पर वह खुश नहीं दिखे।
बाबर ने कहा, ‘मुझे कभी इस बात की चिंता नहीं रही कि इस एक मैच के कारण मैं अपनी कप्तानी गंवा दूंगा। खुदा ने मेरी किस्मत में जो कुछ लिखा होगा वह मुझे मिलेगा। मैं जिसका हकदार हूं वह मुझे मिलेगा। मुझे एक मैच के कारण कप्तानी नहीं मिली और मैं एक मैच के कारण उसे गंवाऊंगा भी नहीं।’ आईसीसी की प्रतियोगिताओं में भारत के खिलाफ उनका रिकॉर्ड अच्छा नहीं है और उन्होंने इसे स्वीकार भी किया।
भारत के साथ कम मैच के कारण
उनका मानना है कि आईसीसी प्रतियोगिताओं से इतर भारत के खिलाफ नहीं खेलना इसका एक कारण है। बाबर ने कहा, ‘विश्व कप में मेरा रिकॉर्ड अभी वैसा नहीं है जैसा कि होना चाहिए, लेकिन उम्मीद है कि अगले मैच में आपको कुछ अंतर नजर आएगा। भारत के खिलाफ हम केवल विश्व कप में ही एक दूसरे का सामना करते हैं। ऐसे में हमें एक दूसरे के खिलाफ खेलने का लंबे अंतराल में मौका मिलता है। मेरे खराब रिकॉर्ड का कारण गेंदबाज नहीं हैं। कई बार मैंने अपनी गलतियों से विकेट गंवाया।’

Related posts

आईपीएल 2023ः राजस्थान रॉयल्स के यशस्वी जायसवाल ने बनायी रिकॉर्ड 13 गेंदों पर फिफ्टी..! केकेआर चारों खाने चित्त

Clearnews

मिस्बाह उल हक की भविष्यवाणी, इन दो टीमों के बीच होगा वर्ल्डकप 2023 का फाइनल

Clearnews

इंटरनेशनल फॉर्मेट में 49वां शतक लगाकर देश भर को ख़ुशी से झुमा दिया अकेले किंग कोहली ने

Clearnews