goa-se-16-mai-ki-subah-takraya-tau-te-panaji-mein-1-aur-karnatak-mein-4-ki-jaanen-gayin-grih-mantri-shah-ne-ki-haalaat-ki-sameeksha-aur-prabhavit-ua-sakne-wale-ilakon-ke-liye-dine-e-uj-sambhav-madad-ka-bharosa

गोवा से 16 मई की सुबह टकराया “ताऊ ते”, पणजी में 1 और कर्नाटक में 4 की जानें गयीं, गृहमंत्री शाह ने की हालात की समीक्षा और प्रभावित हो सकने वाले इलाकों के लिए दिलाया हर संभव मदद का भरोसा

ताज़ा समाचार जयपुर

अरब सागर में बना चक्रवात ‘ताऊ ते’  आज, रविवार 16 मई को सुबह गोवा के तटीय इलाकों से टकराया है। पणजी में तो तेज हवाओं के साथ जोरदार बरसात हुई जिससे बेकाबू हुए हालात के कारण एक व्यक्ति की मौत हो गई। अब वहां ऊंची-ऊंची समुद्री लहरें उठ रही हैं। गोवा में नुकसान पहुंचाने के साथ ही इसके और जोर पकड़ने की आशंका है। कर्नाटक में इसी तूफान के कारण करीब 75 गांव प्रभावित हुए हैं। तेज बरसात से वहां 4 लोगों के मरने की खबर है। चक्रवाती तूफान की वजह से, गोवा महाराष्ट्र, गुजरात, केरल, तमिलनाडु और कर्नाटक को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

गोवा, कर्नाटक, महाराष्ट्र, गुजरात के साथ राजस्थान भी प्रभावित

मौसम विभाग का कहना है कि तूफानी चक्रवात से विभिन्न राज्य प्रभावित होने वाले हैं। ताऊ ते चक्रवात की वजह से दक्षिणी राजस्थान के जोधपुर, उदयपुर, अजमेर व कोटा संभाग के जिलों में आंधी और बारिश होने की आशंका है। कल शाम, 15 मई को भी तेज हवाएं चलीं और बरसात हुई थी। मौसम विभाग के अनुसार 16 मई को राजस्थान के इन इलाकों में 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी और तेज बरसात हो सकती है।

16 th May Tau te Mumbai
मुंबई के समुद्री तट पर लहराता लाल झण्डा जिसका अर्थ है समुद्र की ओर इससे आगे नहीं जाना है क्योंकि इसके आगे खतरा है।

इसके अलावा महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग और रत्नागिरि जिलों में 60 से 70 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने और बारिश की आशंका है। कर्नाटक व केरल के निचले तटीय इलाकों में पानी भरने की जानकारी मिली है और लोगों को अन्यत्र सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है। महाराष्ट्र विशेषतौर पर मुंबई में समुद्री तटों पर लाल झंडे लहरा दिये गये हैं, जिसका अर्थ है कि उससे आगे समुद्र तट की ओर ना जाया जाए, इसके आगे खतरा है। इसके साथ ही नेशनल डिजास्टर रिलीफ फोर्स (एनडीआरएफ) की टीमों के सदस्य तैनात कर दिये गये हैं।

प्राकृतिक आपदा में बिजली आपूर्ति बाधित हो तो वैकल्पिक इंतजाम रखेः गृहमंत्री शाह

ताऊ ते के कारण बिगड़ती परिस्थितयों को लेकर देश के गृहमंत्री अमित शाह ने स्वयं आपदा नियंत्रण की कमान संभाली है। उन्होंने रविवार दोपहर महाराष्ट्र, गुजरात समेत कई प्रदेशों के अधिकारियों और मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की और हालात का जायजा लिया। वर्चुअल बैठक के दौरान उन्होंने सभी राज्यों को हर प्रकार से सहायता करने का भरोसा दिया और कहा कि जरुरत को देखते हुए नेशनल डिजास्टर रिलीफ फोर्स (एनडीआरएफ) की 53 टीमें तैयार रही हैं जिनकी संख्या 100 की जा रही है। इसके अलावा और भी जरूरत होगी तो एनडीआरएफ की इन टीमों की संख्या को और बढ़ाया जाएगा। शाह ने यह भी हिदायत दी कि इस प्राकृतिक आपदा के दौरान कोरोना मरीजों की भी भरपूर देखभाल की जाए। यदि ताऊ ते के कारण बिजली आपूर्ति बाधित हो तो वैकल्पिक इंतजाम पहले से तैयार रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *