Neet exam

नीट-जेईई एग्जाम अभ्यार्थियों पर लागू नहीं होगा लॉकडाउन

शिक्षा कोरोना जयपुर

जयपुर। नीट-जेईई एग्जाम को लेकर पूरे देश में हंगामा मचा हुआ है। इसी हंगामे के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहल करते हुए नीट और जेईई अभ्यार्थियों और उनके परिजनों को कई सुविधाएं और राहत प्रदान की है।

गृह विभाग के प्रमुख शासन सचिव अभय कुमार ने बताया कि जेईई और नीट अभ्यार्थियों और उनके अभिभावकों के लिए राज्य में लॉकडाउन नहीं माना जाएगा। उन्होंने बताया कि इन अभ्यार्थियों और उनके अभिभावकों के लिए एडमिट कार्ड की हार्ड या साफ्ट कॉपी को वैद्य पास माना जाएगा।

उल्लेखनीय है कि राजस्थान के नौ शहरों अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, जयपुर, जोधपुर, कोटा, सीकर और श्रीगंगानगर में 31 अगस्त से 7 सितंबर तक जेईई मेन एग्जाम आयोजित किया जाएगा। इसके साथ ही प्रदेश के छह शहरों अजमेर, बीकानेर, जयपुर, कोटा, जोधपुर और उदयपुर में 12 सितंबर से 14 सितंबर तक नीट का आयोजन किया जाएगा।

नीट और जेईई मेन परीक्षा वाले शहरों में अभ्यार्थियों और उनके अभिभावकों के लिए परीक्षा के निर्धारित दिवसों पर होटल, रेस्त्रां, धर्मशाला खुले रहेंगे। इस दौरान अभ्यर्थी, उनके अभिभावक और रेस्टोरेंट केंद्र सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी एसओपी और गाइडलाइन का पालन करेंगे।

कुमार ने बताया कि परीक्षा के आयोजकों को कोविड से संबंधित सभी सेफ्टी प्रोटोकॉल सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। दो गज की दूरी, मास्क पहनने, सार्वजनिक स्थलों पर न थूकने, बार-बार हाथ धोने जैसी बातों का परीक्षा केंद्रों पर विशेष ख्याल रखने के निर्देश दिए गए हैं। जिला प्रशासन को इस संबंध में परीक्षा केंद्र के बाहर कोविड से संबंधित सभी सेफ्टी प्रोटोकॉल सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है।

गहलोत के निर्देश पर अभ्यर्थियों की परिवहन की व्यवस्था का भी विशेष ख्याल रखा गया है। इस संबंध में जयपुर शहर में जयपुर सिटी ट्रांस्पोर्ट सर्विसेज लिमिटेड को नीट औइ जेईई मेन एग्जाम के अभ्यर्थियों को एडमिट कार्ड दिखाने पर मुफ्त परिवहन की सुविधा प्रदान करेगा। राज्य के अन्य शहरों में राजस्थान पथ परिवहन निगम द्वारा अभ्यर्थियों को एडमिट कार्ड दिखाने पर मुफ्त परिवहन की सुविधा प्रदान की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *