WhatsApp Image 2021 02 07 at 8.45.26 PM 2

हरियाली की दुश्मन बनी राजस्थान सरकार, ग्रीन वैली की जगह बना रहे जयपुर नगर निगम हैरिटेज का गैराज

जयपुर

जयपुर। राजस्थान सरकार हरियाली की दुश्मन बन रही है। जयपुर शहर में हरियाली बढ़ाने के बजाय हरियाली के लिए छोड़ी गई जमीनों पर निर्माण कराए जा रहे हैं। ताजा मामला सामने आया है ग्रीन वैली की जगह पर जयपुर नगर निगम हैरिटेज की ओर से अपने वाहनों का गैराज बनाने का।

नगर निगम हैरिटेज की ओर से अपने सभी जोनों में अलग-अलग गैराज की व्यवस्था की जा रही है। इसके तहत दिल्ली बाईपास पर खोले के हनुमान मंदिर के मुख्य दरवाजे पर दायीं ओर ग्रीन वैली के लिए छोड़ी गई जमीन पर पिछले करीब एक महीने से निर्माण कार्य कराया जा रहा है।

WhatsApp Image 2021 02 07 at 8.45.26 PM 1

ग्रीन वैली के लिए छोड़े गए इस भूखंड पर किसी कारण से हरियाली विकसित नहीं हो पाई थी। पिछले करीब 10-12 वर्षों से निगम ने इसे उपेक्षित छोड़ रखा था, जिससे इस पर कबाड़ियों द्वारा अतिक्रमण किया जाने लगा था। स्थानीय लोगों को आस थी कि इस जगह कभी न कभी पार्क विकसित किया जाएगा लेकिन हैरिटेज निगम ने यहां गैराज निर्माण का कार्य शुरू कर दिया।

शुरुआत में इस भूखंड से मलबा बाहर निकाला गया तो लोगों ने सोचा कि यहां पार्क विकसित किया जाएगा लेकिन जब यहां निर्माण कार्य शुरू हो गया तो स्थानीय निवासियों ने इसका विरोध शुरू कर दिया। लोगों ने गैराज निर्माण के खिलाफ स्थानीय विधायक रफीक खान से भी शिकायत की है।

स्थानीय लोगों का कहना है कि ग्रीन वैली के लिए छोड़ी गई जगह पर पार्क का ही निर्माण किया जाना चाहिए। यदि यहां गैराज बना दिया गया तो कचरे के वाहनों की दुर्गंध से उनका जीना दुश्वार हो जाएगा। वहीं बाईपास पर भी जाम और दुर्घटनाओं की स्थितियां पैदा हो जाएंगी। सबसे बड़ी बात इसके पास से तीन धार्मिक स्थलों के लिए रास्ता गुजरता है और श्रद्धालुओं को भारी दुर्गंध के बीच दर्शनों के लिए जाना पड़ेगा।

WhatsApp Image 2021 02 07 at 8.45.26 PM

भाजपा पार्षद और महापौर प्रत्याशी रहींं कुसुम यादव का कहना है कि ग्रीन वैली के लिए छोड़ी गई जमीन पर ग्रीन वैली ही विकसित की जानी चाहिए, गैराज तो अन्य किसी भी जगह पर बनाया जा सकता है। कांग्रेस सरकार हरियाली को खत्म करने पर तुली है। धार्मिक आस्था के केंद्रों के पास गैराज बनाना अनुचित है और इससे श्रद्धालुओं को परेशानी होगी।

पूर्व उपमहापौर और भाजपा पार्षद मनीष पारीक ने कहा कि शहर की मुख्य सड़क और दर्शनीय स्थल पर गैराज बनाना क्या उचित है, सरकार को इस विषय में सोचना चाहिए। गैराज बनने पर बाईपास पर यातायात की समस्या होगी क्योंकि मंदिर क्षेत्र में बड़े-बड़े कार्यक्रम होते रहते हैं। कांग्रेस सरकार जनहित की उपेक्षा करते हुए फैसले कर रही है। निगम को चाहिए कि वह गैराज निर्माण से पहले स्थानीय निवासियों और धार्मिक क्षेत्रों में होने वाले परेशानियों को देख ले।

भाजपा पार्षद महेंद्र ढलेत ने कहा कि लोकहित की उपेक्षा करना कांग्रेस की सोच रही है। ग्रीन वैली की जगह गैराज बनाया जा रहा है और इससे पास के धार्मिक क्षेत्र भी प्रभावित होंगे तो भाजपा पार्षद इस कार्य का विरोध करेंगे।

भाजपा पार्षद विक्रम सिंह का कहना है कि सरकार को पर्यावरण को प्राथमिकता में रखते हुए ऐसे सभी प्रोजेक्टों को बंद करना चाहिए, जो पर्यावरण को नुकसान पहुंचाते हैं। वैसे भी वॉल सिटी और आस-पास के इलाके में हरियाली का भारी अभाव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *