Jaipur Mai 266 crore ki lagat se legislators ke liye banenge 160 flats

जयपुर (Jaipur) में 266 करोड़ रुपए की लागत से विधायकों (legislators) के लिए बनेंगे 160 फ्लैट्स

जयपुर


सभी की इच्छा शक्ति से मिला विधायक आवास परियोजना को मूर्तं रूप-गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि विधायकों (legislators) के आवास की समस्या काफी पुरानी थी। विधायक नगर पूर्व और पश्चिम तथा जालूपुरा में बने विधायक आवास काफी पुराने व जर्जर हो चुके थे। ऐसे में हमारी सरकार ने वर्षों से लंबित विधायकों की इस समस्या का समाधान करते हुए विधायक आवास परियोजना को मंजूरी दी। सभी की इच्छा शक्ति के कारण ही इस परियोजना को मूर्त रूप मिला है।

गहलोत बुधवार को मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फे्रंस के माध्यम से राजस्थान आवासन मंडल की विधायक आवास परियोजना, कॉन्स्टीट्यूशन क्लब प्रोजेक्ट (constitution club project) और एआईएस परियोजना सहित मंडल के अन्य प्रोजेक्ट्स के शिलान्यास एवं शुभारंभ समारोह को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि नए विधायक आवासों में पर्याप्त जगह के साथ विभिन्न सुविधाएं होंगी। इससे विधायकों से मिलने आने वाले क्षेत्र के लोगों को भी परेशानी नहीं होगी। उन्होंने इस परियोजना को मूर्त रूप देने में सहयोग के लिए विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी, नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल और नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया को साधुवाद दिया।

गहलोत ने कहा कि विधानसभा के पास प्रस्तावित कॉन्स्टीट्यूशन क्लब के निर्माण से पहले आवासन मंडल के अधिकारी दिल्ली स्थित कॉन्स्टीट्यूशन क्लब जाकर वहां उपलब्ध सुविधाओं का जायजा लें और वैसी ही सुविधाएं यहां विकसित करें। इस क्लब में वर्तमान के साथ पूर्व विधायकों को भी सदस्यता दी जाए। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने कहा कि अभी तक विधायक अलग-अलग जगह बने आवासों में रह रहे थे। एक साथ 160 आवास बनने से वे एक-दूसरे से वैचारिक चर्चाएं कर पाएंगे और आपसी संबंध प्रगाढ़ होंगे।

नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि आवासन मंडल के माध्यम से विधायक आवास परियोजना के साथ ही मानसरोवर में 52 एकड़ में सेंट्रल पार्क, प्रताप नगर में ऑल इंडिया सर्विस के अधिकारियों के लिए आवास योजना, कोचिंग हब एवं स्टूडियो अपार्टमेंट्स जैसी महत्वपूर्ण योजनाएं हाथ में ली गई हैं। शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि नए आवास बनने से जनप्रतिनिधियों को पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध होंगी तो वे जन सेवा के काम और अच्छे तरीके से कर पाएंगे।

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया ने कहा कि विधायकों के लिए नए आवास बनने के बाद उन्हें अपने क्षेत्र से आने वाले लोगों को बिठाने एवं उनकी समस्याएं सुनने में आसानी होगी। उन्होंने कहा कि एक साथ रहने पर विधायकों के परिवारों को एक-दूसरे से जुडऩे का मौका मिलेगा।

यह होगी विशेषताएं
अरोड़ा बताया कि विधायकों के लिए 266 करोड़ रुपए की लागत से 24,160 वर्गमीटर क्षेत्र में 6 ब्लॉक में कुल 160 फ्लेट्स निर्मित किए जा रहे हैं। इसमें क्लब हाउस, एसटीपी, गैस बैंक एवं मीटर्ड गैस पाइपलाइन जैसी सुविधाएं भी होंगी। परियोजना क्षेत्र में 40,000 वर्गफीट का सेन्ट्रल पार्क होगा। अत्याधुनिक तकनीक से निर्मित होने वाले इन आवासों में राजस्थान शैली के स्थापत्य की झलक मिलेगी। विधायक आवास परियोजना में निर्माण कार्यों की गुणवत्ता बरकरार रखने के लिए एक प्रकोष्ठ गठित किया गया है। मंडल द्वारा ऑल इंडिया सर्विसेज के अधिकारियों के लिए स्व वित्त पोषित परियोजना के तहत प्रतापनगर में 17,860 वर्गमीटर क्षेत्र में एआईएस रेजीडेंसी में 125 करोड़ रुपए की लागत से 180 फ्लेट्स निर्मित किए जाएंगे।

इन परियाजनाओं का किया शिलान्यास-शुभारंभ

  • विधायक आवास परियोजना, ज्योति नगर, जयपुर
  • प्रतापनगर में 17,860 वर्गमीटर क्षेत्र में एआईएस रेजीडेंसी परियोजना
  • मुख्यमंत्री जन आवास योजना, भिवाड़ी (अलवर)
  • स्टूडियो अपार्टमेंट योजना, सेक्टर 8 प्रतापनगर, जयपुर
  • मुख्यमंत्री जन आवास योजना, सेक्टर 8 प्रतापनगर, जयपुर
  • मुख्यमंत्री जन आवास योजना, सेक्टर 26 प्रतापनगर, जयपुर

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *