जयपुर

जम्मू कश्मीर और उदयपुर को लेकर कांग्रेस ने भाजपा को घेरा, डोटासरा ने एनआईए चीफ को लिखा लेटर, कहा भाजपा नेताओं से कनेक्शन की जांच हो

जयपुर। जम्मू कश्मीर में पकड़े गए आतंकवादियों और उदयपुर मामले को लेकर कांग्रेस ने भाजपा को घेरा है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने एनआईए चीफ को पत्र लिखकर मांग की है कि कश्मीर में पकड़े गए आतंकवादियों और उदयपुर में कन्हैयालाल टेलर के तालिबानी मर्डर में शामिल एक आरोपी के बीजेपी नेताओं के साथ फोटो होने के मामले में भाजपा नेताओं के कनेक्शन की जांच होनी चाहिए।

डोटासरा ने एनआईए के डीजी दिनकर गुप्ता को लेटर लिखकर उदयपुर और जम्मू कश्मीर के मामले में गिरफ्तारी आंतकियों के बीजेपी नेताओं से संबंधों की जांच करने की मांग की है। डोटासरा ने लिखा है कि दोनों मामलों से देशवासियों में बेचैनी है कि कहीं सत्ता के लालच में भाजपा देश विरोधी गतिविधियों का समर्थन तो नहीं कर रही है। इस शक को दूर करने के लिए एनआईए को अपनी जांच का दायरा बढ़ाना चाहिए। एनआईए को इन दोनों घटनाओं की जांच कर इन आतंकवादियों से भाजपा के संबंधों की सच्चाई उजागर करनी चाहिए।

डोटासरा ने लेटर में लिखा है कि उदयपुर मर्डर में शामिल मोहम्मद रियाज अत्तारी भाजपा का एक सक्रिय सदस्य था। वह लगातार भाजपा के कार्यक्रमों में शामिल होता रहा है। उदयपुर से भाजपा विधायक और वरिष्ठ नेता गुलाब चंद कटारिया के साथ भी इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हो रही हैं। जिस प्रकार की राजनीति देशभर में की जा रही है उसके कारण ये शक होना स्वभाविक है कि इस घटना का भारतीय जनता पार्टी से संबंध है। 4 जुलाई 2021 को जम्मू कश्मीर के रियासी में जम्मू पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए दो आतंकवादियों में से आतंकी तालिब हुसैन शाह भी भाजपा के जम्मू अल्पसंख्यक मोर्चे का सोशल मीडिया प्रभारी था। इस आतंकी के पास अत्याधुनिक राइफल, विस्फोटक सामग्री और अन्य हथियार भी बरामद हुए हैं।

डोटासरा ने बीजेपी नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा है कि बीजेपी नेताओं का जनता से कोई सरोकार नहीं है। इनके बीच एक अंधी दौड़ चल रही है जिसमें इन्हें बस मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनना है, इसलिए इनके अंदर कोई संवेदनाएं नहीं बची हैं। यही वजह है घटना के 7 दिन बीत जाने के बाद और हैदराबाद से मौज मस्ती काटकर वापस आने के बाद भाजपा के नेता कन्हैया लाल के घर जा रहे हैं। 28 जून को घटना हुई। राजस्थान भाजपा के नेता बताएं कि इस घटना के बाद वो सब कहां गायब थे। जब पूरा राजस्थान दुखी था, गम में था तब इनकी हैदराबाद के फाइव स्टार होटलों में जश्न मनाते हुए तस्वीरें सामने आ रही थीं। अब ये पॉलिटिकल टूरिस्ट बनकर उदयपुर जा रहे हैं और अनर्गल बातें कर रहे हैं।

Related posts

आर्थिक अपराधों में कमी के लिए लोगों का जागरूक करें सीए-मिश्र

admin

राजस्थान में ओवैसी का 1 तोड़ है, राजस्थान का मूल ओबीसी

admin

परशुराम शोभायात्रा के लिए गणेशजी को न्यौता

admin